ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News NCR गाज़ियाबाद जीआईएस मैपिंग से निगम की व्यवस्थाएं डिजिटल होंगी

जीआईएस मैपिंग से निगम की व्यवस्थाएं डिजिटल होंगी

जियोग्राफिक इनफार्मेशन सिस्टम (जीआईएस) मैपिंग से नगर निगम की सभी व्यवस्थाएं डिजिटल होंगी। इस स्मार्ट वर्किंग व्यवस्था से स्ट्रीट लाइट, सड़कें, नाले...

जीआईएस मैपिंग से निगम की व्यवस्थाएं डिजिटल होंगी
हिन्दुस्तान टीम,गाज़ियाबादThu, 23 May 2024 07:45 PM
ऐप पर पढ़ें

गाजियाबाद। जियोग्राफिक इनफार्मेशन सिस्टम (जीआईएस) मैपिंग से नगर निगम की सभी व्यवस्थाएं डिजिटल होंगी। इस स्मार्ट वर्किंग व्यवस्था से स्ट्रीट लाइट, सड़कें, नाले व संपत्ति की जानकारी तुरंत मिल सकेगी। इस संबंध में एजेंसी ने नगर आयुक्त को अंतिम प्रजेंटेशन दिया।
नगर आयुक्त विक्रमादित्य सिंह मलिक की अध्यक्षता में गुरुवार को बैठक हुई। इसमें रिमोट सेंसिंग एप्लीकेशन सेंटर लखनऊ से आए साइंटिस्ट आलोक सैनी द्वारा किए गए कार्य की अंतिम प्रेजेंटेशन दी। साथ ही विस्तार से बताया गया कि गाजियाबाद नगर निगम सीमा अंतर्गत आने वाले नाले, सड़क, शौचालय, स्ट्रीट लाइट, संपत्ति को किस प्रकार डिजिटल प्लेटफॉर्म पर लाया गया है। साथ ही कार्यप्रणाली को और अधिक आसान बनाया जा रहा है। टीम ने बताया कि सड़कों की लंबाई, चौड़ाई, डाबर व आरसीसी सड़क, इंटरलॉकिंग की सड़क, सभी को कैटेगरी में अलग-अलग करके दर्शाया गया है, जिसके माध्यम से नगर निगम की योजना के अंतर्गत कार्य करने का निर्णय प्राथमिकता निश्चित करते हुए लिया जा सकेगा जिस शहरवासियों को भी सहूलियत रहेगी। इसी आधार पर नालों की सफाई स्ट्रीट लाइट की स्थिति निगम की संपत्ति का विवरण शौचालय की स्थिति व अन्य विवरण भी आसानी से एक ही डिजिटल प्लेटफॉर्म पर प्राप्त हो सकेंगे।

बता दें कि नगर निगम के भौगोलिक सूचना प्रणाली (जीआईएस) सर्वे का कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है, जिसमें नगर निगम सीमा अंतर्गत आने वाली सड़कों, स्ट्रीट लाइट, संपत्ति, नालों, शौचायलयों, पार्कों, व अन्य डाटा, डिजिटल प्लेटफॉर्म पर जोड़ दिया गया है। इस प्रकार एक ही प्लेटफार्म पर सभी प्रकार की सूचना अधिकारियों व निगम की टीम को सरलता से प्राप्त होगी, जिस पर प्राथमिकता के आधार पर तय होने वाले कार्य के लिए निर्णय लिया जा सकेगा।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।