DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नामी कंपनी की डीलरशिप दिलाने के नाम पर ठगी

नामी आयुर्वेद कंपनी की डीलरशिप दिलाने के नाम पर एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर के साथ 50 हजार रुपये की ठगी का मामला सामने आया है। पीड़ित ने शनिवार को इंदिरापुरम थाने में शिकायत दी, लेकिन पुलिस ने उन्हें साइबर सेल में शिकायत देने को कहा। इसके बाद पीड़ित ने एसएसपी ऑफिस में शिकायत दी है।वसुंधरा सेक्टर-4 बी में रवि राय अपने परिवार के साथ रहते हैं। वह नोएडा सेक्टर-60 की एक कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं। बीते दिनों उन्होंने अपने साले विकास कुमार के नाम पर आयुर्वेदिक दवाइयों की डीलरशिप लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया था। इस बीच ठगों ने रवि को एक खाता नंबर देकर उसमें 50 हजार रुपये जमा कराए। रवि ने ऑनलाइन धनराशि दिए गए खाते में स्थानांतरित कर दी। इसके बाद ठग उन्हें कुछ दिन तक कागजात जमा करने के लिए घुमाते रहे। ठगों ने जब उनसे दवायों के नाम पर ढाई लाख रूपये और जमा कराने के लिए कहा तो उन्हें शक हो गया। आनन फानन में उन्होंने कंपनी के कस्टमर केयर पर फोन किया तो उन्हें खुद के साथ ठगी का मालूम हुआ। आरोप है कि ठगों ने उनका नंबर ब्लॉक कर दिया है। इस बाबत पीड़ित रवि शिकायत देने इंदिरापुरम थाने पहुंचे। जहां पुलिसकर्मियों ने उन्हें साइबर सेल में शिकायत देने को कह दिया। इसके बाद रवि ने एसएसपी ऑफिस में जाकर शिकायत दी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Cheating on the name of getting the company's dealership