DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आटो चालक की निर्मम हत्या के बाद एसएच-57 पर लगाया जाम

रंजिशन ऑटो चालक की रस्सी से फंदा लगाकर एवं ईंटों से ताबड़तोड़ वार कर निर्मम हत्या कर दी और शव को झाड़ियों में फेंक दिया। यह वारदात गुरुवार सुबह ट्रॉनिका सिटी थाने की पूजा कॉलोनी में हुई। शव को पोस्टमार्टम के लिए ले जाते समय पुलिस ने मृतक के पिता और भाई को थ्रीव्हीलर से जबरन उतार दिया। जिस पर परिजन और कॉलोनीवासी आक्रोशित हो गए और एसएच-57 पुस्ता चौकी के सामने जाम लगाकर हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस ने लाठी फटकार कर जाम खुलवाया। परिजनों ने पांच आरोपियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। इनमें से दो नामजद किए गए हैं।बुलंदशहर जिले के मंगलपुर गांव के रहने वाले सोमवीर गत करीब 22 वर्षों से परिजनों के साथ लोनी के ट्रॉनिका सिटी थाना क्षेत्र की पुनीत एंक्लेव पूजा कॉलोनी में रह रहे हैं और ट्रॉनिका सिटी बिजलीघर में लाइनमैन हैं। उनका दूसरे नंबर का बेटा नरेश (35) कई माह से ऑटो चला रहा था। सुबह सात बजे तक वह घर पर था, लेकिन इसके बाद बिना बताए घर से चला गया। दो घंटे बाद उसका लहूलुहान शव पूजा कॉलोनी में ही झाड़ियों में पड़ा मिला। उसकी गले में रस्सी का फंदा लगाकर एवं ईंटों से ताबड़तोड़ वार कर निर्मम हत्या की गई थी। कुछ देर बाद परिजनों ने मौके पर पहुंचकर शव की शिनाख्त की। एसएच-57 पर हंगामा कियाकरीब 11 बजे पुलिस शव को एक थ्रीव्हीलर में रखकर पोस्टमार्टम के लिए ले जा रही थी। इसमें मृतक के पिता सोमवीर एवं छोटा भाई जयप्रकाश भी बैठा हुआ था। परिजन शव को ट्रॉनिका सिटी थाने ले जाकर पहले एफआईआर दर्ज करने की मांग कर रहे थे, लेकिन पुलिस ने उनकी नहीं सुनी और पुस्ता चौकी के पास पिता-पुत्र को जबरन थ्रीव्हीलर से उतार दिया और शव को पोस्टमार्टम के लिए लेकर चली गई। जिस पर परिजन एवं कॉलोनीवासी आक्रोशित हो गए और पुस्ता चौकी के सामने एसएच-57 पर जाम लगाकर हंगामा करने लगे। काफी देर तक पुलिस उन्हें समझा बुझाकर जाम खुलवाने का प्रयास करती रही, लेकिन जब वह नहीं माने तो लाठी फटकार कर जाम खुलवाया।मुकदमा दर्ज करायामृतक नरेश के पिता सोमवीर ने अंसल इस्ट एंड कॉलोनी में रहने वाले नईम, सलीम एवं उनके तीन अज्ञात साथियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। सोमवीर ने बताया कि चार माह पहले वे परिजनों के साथ अंसल कॉलोनी में ही रहते थे। 26 फरवरी को कॉलोनी में क्रिकेट खेल रहे नईम एवं उसके साथियों की बॉल कई बार उनके घर में आ गई थी। विरोध करने पर नईम, सलीम ने अपने कई साथियों के साथ उनके घर में घुसकर पूरे परिवार के साथ जमकर मारपीट की थी। उसने हमलावरों के विरुद्ध ट्रॉनिका सिटी थाने में कातिलाना हमले का मुकदमा दर्ज कराया था। इसी रंजिश के चलते उन्होंने उसके बेटे नरेश की हत्या की है।एक बेटे का पिता था नरेशहत्या का शिकार हुए नरेश अपने पांच भाइयों में दूसरे नंबर का था। उसके परिवार में पिता के अलावा मां होश्यारी, पत्नी नीलम एवं पांच वर्ष का एक बेटा हिमांशु है। जबकि उसकी पत्नी करीब आठ माह की गर्भवती है। वर्जनकुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मामले की जांच के बाद हत्यारोपियों को जेल भेजा जाएगा।- श्रीकांत प्रजापति, सीओ

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Auto driver stabbed to death, jammed