DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्वयं सहायता समूह देगा गर्भवती महिलाओं को भोजन

महिला अस्पताल में अब भर्ती होने वाली गर्भवती महिलाओं को स्वयंसेवी संस्था भोजन देगी। भोजन टिफिन में दिया जाएगा। जिलाधिकारी मिनिस्ती एस ने गुरुवार को इसकी शुरुआत कर दी। डीएम ने स्वयं सहायता समूह द्वारा अस्पताल में भर्ती होने वाली महिलाओं को जननी सुरक्षा योजना के तहत नाश्ता, दोपहर का भोजन और रात का भोजन मुहैया कराने की योजना का उद्घाटन किया। उन्होंने स्वयं सहायता समूह को 40 टिफिन भी बांटे। सीएमएस डॉ. दीपा त्यागी ने बताया कि अस्पताल की किचन अभी भी पुराने परिसर में चल रही है। केंद्र की जननी सुरक्षा योजना के तहत सरकारी अस्पतालों में भर्ती गर्भवतियों को हर रोज 100 रुपये का बजट खाने के लिए दिया जाता है। सभी अस्पतालों में कंपनियों को ठेेका दिया जाता है। ---------- प्रशिक्षण केंद्र का निरीक्षण किया जिलाधिकारी मिनिस्ती एस ने गुरुवार को उप्र कौशल विकास मिशन प्रशिक्षण केंद्र का निरीक्षण किया। यहां पर फैशन डिजाइनिंग, सिलाई मशीन व ऑपरेटर के 156 युवक युवतियों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। रिसर्च एसोसिएशन के डायेक्टर जनरल अरिंदम वासु ने बताया कि अब तक 382 युवक- युवतियां प्रशिक्षण प्राप्त कर चुके हैं। 290 प्रशिक्षार्थियों का परीक्षा फल घोषित हो चुका है। वर्ष 2017-2018 में 290 प्रशिक्षार्थिया का मूल्यांकन हो चुका है। साथ ही 134 प्रशिक्षण प्राप्त युवक युवितयों को प्लेसमेंट मिला चुका है। जिलाधिकारी मिनिस्ती एस ने केंद्र में प्रशिक्षण प्राप्त युवक युवतियों को अधिकतम प्लेसमेंट करने पर जोर दिया। इस मौके पर परियोजना निदेशक डीआरडीए एसके त्रिपाठी, जिला रोजगार अधिकारी शशिभूषण उपाध्याय, रश्मी गुप्ता आदि मौजूद रहीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ाषशा Self Help Group will feed the pregnant women