The monk nephew had murdered Sitadevi - मुंहबोला भतीजे ने सीतादेवी की हत्या की थी DA Image
8 दिसंबर, 2019|1:07|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुंहबोला भतीजे ने सीतादेवी की हत्या की थी

अपराध जांच शाखा, डीएलएफ ने सूर्या विहार पार्ट-2 में 48 वर्षीय सीता देवी की हत्या के मामले को सुलझाकर मुंहबोले भतीजे को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। महिला की ओर से उधार लिए गए 65 हजार रुपये न देने पर आरोपी ने गुस्से में आकर हथौड़े से हमला कर उसकी हत्या कर दी थी। गिरफ्तार आरोपी की पहचान मूल रूप से एटा हाल दिल्ली संगम विहार निवासी करीब 52 वर्षीय उदयवीर के रूप में हुई है। पुलिस ने हत्या में प्रयोग हथौड़ा और ताले की चाभी बरामद करने के लिए आरोपी को अदालत में पेश कर पुलिस रिमांड पर ले लिया है।

प्लॉट खरीदने के लिए उधार लिए थे 65 हजार रुपये :

एसीपी क्राइम राजेश चेची ने बताया कि मामले को सुलझाने में डीएलएफ अपराध जांच शाखा प्रभारी अशोक कुमार, सब-इंस्पेक्टर यादराम और एएसआई अश्वनी कुमार की अहम भूमिका रही है। सीता देवी ने कुछ समय पहले 30 वर्ग गज का प्लॉट खरीदा था। प्लॉट खरीदने के लिए उसने अपने मुंहबोले भतीजे उदयवीर से 65 हजार रुपये उधार लिए थे। जरूरत होने पर उदयवीर काफी समय से अपने रुपयों की मांग कर रहा था, लेकिन सीता देवी उसके रुपये नहीं लौटा रही थी। हत्या से करीब 10 दिन पहले भी आरोपी ने महिला को रुपये न देने पर हत्या की चेतावनी दी थी।

11 अक्तूबर को आरोपी रुपये लेने के लिए महिला के घर पहुंचा था। उसने घर पहुंचकर खाना भी खाया था। उसके बाद उसने रुपयों की मांग की, लेकिन महिला ने रुपये न होने के कारण असमर्थता जाहिर की। इस पर उदयवीर आपा खो बैठा। उसने बेड के नीचे रखे हथौड़े को निकाला और पीछे से आकर महिला के सिर पर वार कर दिया, जिससे महिला की मौके पर ही मौत हो गई। उसके बाद आरोपी कमरे के बाहर से ताला लगाकर फरार हो गया, 12 अक्तूबर की सुबह जब महिला का बेटा सोहेल घर पहुंचा तो हत्या का पता चला था।

कैसे हुआ था गिरफ्तार :

मृतक महिला के पति रामप्रकाश ने पुलिस के समक्ष उदयवीर पर अपनी पत्नी की हत्या करने का शक जताया था। उसके बाद पुलिस उसकी तलाश में जुट गई थी। पुलिस ने शनिवार रात को आरोपी को उसके दिल्ली स्थित ठिकाने से गिरफ्तार कर लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: The monk nephew had murdered Sitadevi