DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अवैध निर्माण के लिए जिम्मेदार अधिकारियों पर कार्रवाई हो

अरावली पहाड़ी में अवैध निर्माण और पेड़ कटाई पर रोक के लिए अरावली सेव संस्था ने पुलिस आयुक्त अमिताभ सिंह ढिल्लो को पत्र लिखकर जिम्मेदार अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की है। संस्था की मांग की है कि वर्ष 2012 से अवैध निर्माणों की निगरानी के लिए एक कमेटी गठित है। कमेटी के वजूद में रहने के बावजूद अरावली में 140 अवैध निर्माण हो चुके हैं, इसलिए अवैध निर्माण के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ मामले दर्ज होने चाहिए।

‘अरावली सेव संस्था के मुताबिक, अरावली पहाड़ी में गैर प्राकृतिक गतिविधियां चल रही हैं, जबकि पीएलपीए एक्ट के सेक्शन चार-पांच के तहत यहां गैर प्राकृतिक कार्य नहीं हो सकता है। अवैध निर्माण रोकने के लिए गठित कमेटी में नगर निगम, हुडा, राजस्व विभाग और थाना एसएचओ शामिल हैं। कमेटी गठित होने के बावजूद अरावली में अवैध निर्माण बढ़ते जा रहे हैं। संस्था के पदाधिकारियों का कहना है कि कमेटी सही से कार्य करती तो यह आज यहां अवैध निर्माण नहीं हुए होते। थाना एसएचओ ने भी अपने ड्यूटी जिम्मेदारी से नहीं निभाई। इसलिए पुलिस, नगर निगम, खनन आदि विभागों के जिस किसी भी अधिकारी ने कोताही बरती है। उनके खिलाफ मामले दर्ज करवाए जाएं। उन्होंने कहा कि अरावली पहाड़ी का सुरक्षित रहना दिल्ली-एनसीआर और भविष्य की पीढ़ियों के लिए जरूरी है। अरावली एनसीआर का ऑक्सीजन सेंटर है, यहां पर अवैध निर्माण, पेड़ कटाई और अतिक्रमण को रुकवाने के लिए जिम्मेदार अधिकारियों पर तत्काल मामले दर्ज करवाए जाएं, ताकि आने वाले समय में कोई भी अधिकारी कर्तव्य पालन में कोताही न बरते।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: Take action on officials responsible for illegal construction