DA Image
3 दिसंबर, 2020|1:15|IST

अगली स्टोरी

पुलिस ने रात में 103 हिस्ट्रीशीटर के घरों की तलाशी ली

default image

फरीदाबाद। पुलिस ने बदमाशों पर सख्ती करने के लिए तीन वर्ष की अवधि में अलग-अलग मामलों में जमानत पर जेल से बाहर आए हिस्ट्रीशीटर और बदमाशों के घरों पर जाकर जांच की। इसका मकसद जमानत पर आए बदमाशों की गतिविधियों का पता लगाकर उन पर शिकंजा कसना था। पुलिस आयुक्त ओपी सिंह ने पुलिस अधिकारियों को रात्रि जांच के दौरान जमानत पर आए हिस्ट्रीशीटर और बाकी बदमाशों की जांच के आदेश दिये थे। बीते तीन वर्ष की सूची बनाकर पुलिस ने बुधवार-गुरुवार रात को जांच की। जांच के दौरान पुलिस ने 103 बदमाशों के घर पहुंचकर पता लगाया कि वे अपने घर पर मौजूद हैं या नहीं। जांच के दौरान आरोपी अपने घरों पर सोते हुए मिले। पुलिस ने यह चेकिंग 11:00 से 4:00 बजे के बीच की। पुलिस नाकों पर चेकिंग के दौरान पुलिसकर्मियों ने कागजात न मिलने पर 28 मोटरसाइकिलों को जब्त कर लिया। जेल से जमानत पर आए बदमाश अपराध को बढ़ावा देने में बड़ी भूमिका निभाते हैं। ये अपने आस-पास रहने वालों और परिचित लोगों को लालच देकर अपने साथ वारदात करने के लिए शामिल कर लेते हैं। पुलिस आयुक्त का मानना है कि जिस प्रकार एक गंदी मछली पूरे तालाब को गंदा कर देती है। उसी तरह एक आपराधिक प्रवृति का इंसान अपने आस-पास रहने वाले लोगों को अपराध की दुनिया में धकेल देता है। इसीलिए आपराधिक प्रवृति के लोगों पर शिकंजा कसने की जरूरत है।   

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Police searched 103 historyheater houses at night