DA Image
24 जनवरी, 2021|9:19|IST

अगली स्टोरी

पलवल क्षेत्र को जलभराव से निजात मिलेगा

default image

जिला उपायुक्त नरेश नरवाल ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे जलभराव वाले क्षेत्रों में जलभराव की समस्या के निदान के लिए आवश्यक योजना व उसका एस्टीमेट बनाए और समय-समय पर ड्रेनों की सफाई सुनिश्चित की जाए। इसके अलावा जलभराव वाले स्थानों में पानी न भरे इसके लिए उचित व्यापक प्रबंध सुनिश्चित किए जाए। उपायुक्त नरेश नरवाल ने मंगलवार को लघु सचिवालय के हॉल में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए हथीन क्षेत्र के गांव मिंडकोला, श्यारौली,कानौली, मढनाका, किशोरपुर और महेशपुर आदि गांवों में होने वाले जलभराव की समस्याओं से निजात दिलाने को लेकर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस दौरान हथीन हलका के विधायक प्रवीण डागर भी मुख्य रूप से उपस्थित थे।

पम्प हाउस के मरम्मत की योजना की तैयार

बैठक में सिंचाई विभाग ने गांव बढा व महेशपुर में करीब 92 लाख 50 हजार रूपए की लागत से बनाए जाने वाले पम्पहाउस, आरडी पर गुरूग्राम नहर में पानी की निकासी के लिए मौजूदा मंडकोला क्यूनेट के पियर्स की मरम्मत पर करीब 23.43 लाख रुपये खर्च करने, गांव मिंडकोला के निचले इलाके में जमा बाढ़ के पानी को ले जाने के लिए 81 लाख रूपए की लागत से पम्पहाउस स्थापित करके जमा हुए बाढ़ के पानी को बाहर निकालने की योजना तथा गांव श्यारौली -मिडकोला मार्ग पर करीब 92 लाख रूपए की लागत से पम्महाउस लगवाने व ड्रेन बनवाने आदि कार्य पर विचार-विमर्श कर समीक्षा की गई।

बैठक में पीपीटी के माध्यम से नवीनतम प्रगति विवरण प्रस्तुत किया गया। इस अवसर पर जिला नगर आयुक्त मोनिका गुप्ता, एसडीएम पलवल कंवर सिंह, नगराधीश दिनेश , जनस्वास्थ्य अभियांत्रिक विभाग के अधीक्षक अंभियंता जगदीश जांगड़ा, कार्यकारी अभियंता आर.सी. गौड़, सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियंता एस.पी. गर्ग,उपमण्डल अधिकारी रियाज अहमद ,कनिष्ठï अभियंता राहुल पांचाल , खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारी अमित कुमार, ई ओ नगर परिषद कुलदीप मलिक, एम ई प्रवीण राघव सहित अन्य संबंधित अधकारी मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Palwal region will get rid of waterlogging