DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सावन के पहले सोमवार के लिए सज गए शिवालय

भगवान शिव के प्रिय माह सावन के पहले सोमवार के लिए शहर के मंदिरों को सजाया गया है। अधिकांश मंदिरों में सुबह चार बजे से ही भगवान शिव का जलाभिषेक शुरू हो जाएगा। अधिकांश मंदिरों के बाहर बेलपत्र और प्रसाद की दुकानें लगाई गई हैं। मंदिरों में भीड़ को नियंत्रण करने के लिए मंदिर कमेटियों ने सेवादारों की संख्या बढ़ाई है। बड़े मंदिरों के आसपास पुलिस व्यवस्था चौकस रहेगी। लेकिन पुलिस ने रूट डायवर्ट की कोई योजना नहीं बनाई है।

तिकोना पार्क स्थित शिवालय में मंदिर कमेटी ने बैरीकेटिंग की है। वायुसेना मार्ग स्थित श्रीराम मंदिर में गली को आम लोगों के लिए बंद किया गया है। सैनिक कॉलोनी के बड़े शिवालयों समेत मंदिरों में लगने वाली कतार की व्यवस्था की गई है। कई मंदिरों को रोशनी से सजाया गया है। पंडित परमानंद शास्त्री बताते हैं कि सावन का पहला सोमवार देश के लिए सौभाग्य योग बना रहा है। सौभाग्य योग बहुत शुभ और मंगलकारी माना जाता है। सोमवार को इस मुहूर्त में पति-पत्नी साथ में शिवलिंग की पूजा करें तो भावनी शंकर की कृपा के पात्र होते हैं।

ऐसे करें पूजा-अर्चना

पंडित परमानंद शास्त्री बताते हैं कि सावन के महीने में भगवान शिव की पूजा-अर्चना का बड़ा ही महत्व है। इसलिए जलाभिषेक के बाद बेलपत्र और धतुरा अवश्यक चढ़ाए।

-शिवलिंग पर जल चढ़ाने से पहले सूर्य देव को जल चढ़ाएं इसके बाद शिवमंदिर जाकर तांबे के पात्र में गंगाजल में सफेद चंदन मिलाकर शिवलिंग पर चढ़ाए।

-शिवलिंग पर गंगाजल,दूध और गन्ने के रस से भी अभिषेक कर सकते है

---------------------------------------

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Pagoda decorated for first Monday of saawan