DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   NCR  ›  फरीदाबाद  ›  साढ़े पांच महीने में मास्क न लगाने पर एक लाख से अधिक लोगों के चालान

फरीदाबादसाढ़े पांच महीने में मास्क न लगाने पर एक लाख से अधिक लोगों के चालान

हिन्दुस्तान टीम,फरीदाबादPublished By: Newswrap
Fri, 16 Apr 2021 11:50 PM
साढ़े पांच महीने में मास्क न लगाने पर एक लाख से अधिक लोगों के चालान

बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते मास्क को लेकर पुलिस गंभीर है। बीते साढ़े 5 महीने में पुलिस ने एक लाख से अधिक लोगों के मास्क न पहनने को लेकर चालान काटे हैं। जिनसे 500 रुपये प्रति चालान के हिसाब से जुर्माना वसूला गया है। गुरुवार को गृह मंत्री अनिल विज के आए ट्वीट के बाद से पुलिस के तेवर और भी सख्त हो गए हैं। पुलिस आयुक्त ओपी सिंह के निर्देश पर पुलिस अब मास्क न लगाकर सड़कों पर घूमने वालों पर सख्ती बरतनी शुरू कर दी है।

कोरोना का प्रकोप दोबारा से फैलता जा रहा है। इसको लेकर सरकार लगातार नई नई गाइडलाइन जारी कर रही है। इसके साथ ही कोरोना को लेकर पुलिस ने सख्ती बढ़ा दी है। लगभग सभी थाना व चौकी इलाके में पुलिसकर्मी नाके लगाकर मास्क के चालान काट रहे हैं। कोरोना को लेकर वैसे तो पुलिस ने गत वर्ष 2020 से मास्क न लगाने वालों के खिलाफ यह अभियान चलाया हुआ है। लेकिन नवंबर 2020 के बाद पुलिस के रिकार्ड पर नजर डाली जाए तो अभी तक एक लाख से अधिक लोगों के मास्क न पहनने पर चालान किए जा चुके हैं। रात्रि कर्फ्यु से पहले 3 अप्रैल को मात्र एक दिन में फरीदाबाद के 30 थाने व चौकियों में मास्क को लेकर 806 चालान काटे गए, जबकि 3 हजार 797 लोगों को मास्क लगाने के बारे में जागरूक किया गया। इसके बाद बढ़ते कोरोना संक्रमित मरीजों की स्थिति को देखते हुए रात्रि कर्फ्यु लगा दिया। इसके साथ ही गृह मंत्री अनिल विज ने प्रदेश के सभी जिला उपायुक्त एवं पुलिस आयुक्त व अधीक्षकों को कोविड नियमों का पालन करने के लिए सख्ती बरतने के आदेश दिए। इसके साथ ही पुलिस ने गुरुवार शाम से सख्ती बरतनी शुरू कर दी। इसे लेकर तमाम चौराहों के अलावा थाना वाइज पुलिस जहां लोगों को मास्क पहनने के बारे में जागरूक कर रही है, वहीं उनके चालान भी काटे जा रहे हैं।

3 अप्रैल की तुलना में ढाई गुना काटे गए मास्क के चालान

पुलिस रिकार्ड के मुताबिक 3 अप्रैल को जहां शहर भर में 806 लोगों के मास्क न पहनने पर चालान काटे गए थे, वहीं 15 अप्रैल यानिकी की गुरुवार को 1921 लोगों के चालान काटे गए। यह संख्या पहले के मुकाबले लगभग ढाई गुना ज्यादा है। इसी तरह 6 नवंबर 2020 से 15 अप्रैल 2021 तक 6 लाख 56 हजार 48 लोगों को मास्क पहनने के बारे में जागरूक किया। जबकि अब तक 1 लाख 947 लोगों के मास्क न पहनने पर चालान काटे गए। जिनसे प्रति चालान 500 रुपये जुर्माना वसूला गया।

पुलिस आयुक्त ओपी सिंह का कहना है कि कोरोना महामारी के नियंत्रण के लिए सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुसार रात्रि कर्फ्यू के दौरान मूलभूत सुविधाएं प्रदान करने वाले लोगों को ही आवागमन की अनुमति रहेगी और अनावश्यक रूप से बाहर निकलने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

संक्रमित मरीज ने फैलाई बीमारी तो पुलिस दर्ज करेगी केस।

पुलिस आयुक्त ने बताया कि कोविड से ग्रसित मरीजों को ट्रेस करने के लिए टीम लगाई गई है, जो इस महामारी से संक्रमित व्यक्तियों और उसके संपर्क में आने वाले लोगों पर निगरानी रखेगी। यदि कोई व्यक्ति नियमों का उल्लंघन करता है तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए आईपीसी की धारा 188 एवं डिजास्टर मैनेजमेंट के तहत मामला दर्ज किया जाएगा। उन्होंने कहा कि न शहर के भीड़भाड़ वाले मुख्य स्थानों पर ज्यादा से ज्यादा पुलिसकर्मियों की तैनाती की जाएगी और उनके द्वारा लोगों को इस महामारी से बचाव के लिए जागरूक किया जाएगा और पुलिस के नाको पर स्वास्थ विभाग की टीम ( सैंपलिंग) कोविड जांच भी करेगी।

हेलमेट पहनने के बारे में किया जागरूक

विश्व स्वास्थ्य दिवस पर शुरू हुई फरीदाबादवासियों को हेलमेट पहनने के लिए जागरूक करने की मुहिम का पहला चरण नीलम फ्लाईओवर के नीचे संपन्न हुआ | यहां का नजारा रोजमर्रा से अलग था क्योंकि शुक्रवार को यहां ट्रैफिक पुलिस कोई चालान नही कर रही थी अपितु लोगों को विनम्र तरीके से ट्रैफिक पुलिस और सर्वोदय हॉस्पिटल के अधिकारियों द्वारा बिना चालान किये हेलमेट और मास्क वितरित कर जागरूक कर रही थी। यातायात थाना प्रभारी राजीव कुमार ने बताया कि इस दौरान जरूरतमंद दोपहिया वाहन चालकों को निःशुल्क हेलमेट वितरित किये जायेंगे।

संबंधित खबरें