DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अरावली लाइव:अरावली में आज भी करीब बीस जगह बनाए जा रहे अवैध फार्म हाउस

वाकई! भूमाफिया के बीच इन दिनों अरावली पर्वत शृंखला में कब्जों की होड़ लगी है। दिल्ली-सूरजकुंड सड़क और गुरुग्राम सड़क से अरावली में अंदर जाने पर दिखाई देगा कि धड़ल्ले से पत्थरों की चारदीवारी करके जमीन कब्जाने का खेल चल रहा है। सर्वोच्च न्यायालय के आदेशों की परवाह किए बिना अरावली में अवैध खनन और अवैध निर्माण का सिलसिला बदस्तूर जारी है और अगर इस सिलसिले को नहीं रोका गया तो राजस्थान की तरह यहां भी अरावली ढंढे नहीं मिलेगी। ‘हिन्दुस्तान ने पाया कि अरावली में अंदर करीब बीस जगहों पर अभी भी अवैध कब्जे या अवैध फार्महाउस बनाने का खेल चल रहा है, हालांकि कारोबार के लिहाज से खनन नहीं हो रहा है, लेकिन अरावली में पहाड़ को समतल करने के लिए बलास्टिंग (बारुद की सहायता से पत्थर को तोड़ना) के जरिए रात में खनन होता है और उसी पत्थर से जमीन की चारदीवारी की जाती है। खनन विभाग ऐसे लोगों के खिलाफ पुलिस में सिर्फ मामले दर्ज करवा पाता है। बीते एक साल में दिल्ली-सूरजकुंड सड़क के साथ अरावली में करीब दस फार्म हाउस बनाए गए हैं, जहां शादी और पार्टियों के कार्यक्रम के रूप में कारोबार किया जाता है। इन फार्महाउसों में इन लोगों ने स्वयं ट्यूबवेल लगाकर पानी का इंतजाम किया है, जबकि बिजली विभाग ने इन फार्महाउसों में बिजली कनेक्शन दिए हैं। मिलीभगत में सभी संबंधित विभाग शामिल हैं। नगर निगम, बिजली विभाग, वन विभाग और खनन विभाग ने अपनी जिम्मेवारी नहीं निभाई हैं। हैरानी की बात है कि नगर निगम की ओर से करवाए सर्वे में पाए गए 140 अवैध फार्म हाउसों पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। नगर निगम आयुक्त मोहम्मद शाइन अनेक बार जल्द तोड़फोड़ करवाने के बयान दे चुके हैं। बहरहाल, निगम प्रशासन अवैध फार्म हाउसों की फाइल पर कुंडली मारकर बैठ गया है। ---------------अवैध खनन से होती है कब्जों की शुरुआत : हालांकि राजस्थान की तरह फरीदाबाद की अरावली में पत्थर के कारोबार के लिहाज से खनन नहीं हो रहा है, लेकिन यहां खनन फार्म हाउस स्थापित करने के लिए किया जा रहा है। पहाड़ को समतल करने के लिए पहले खनन किया जाता है और उससे निकलने वाले पत्थर को तोड़कर फार्म हाउस की दीवार बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसके बाद खनन वाली जगह पर मिट्टी भरकर जगह को समतल कर दिया जाता है। सबसे पहले दीवारों को आठ से दस फुट ऊंचाई तक किया जाता है, ताकि अंदर की गतिविधियों पर किसी की नजर न पड़े। दिल्ली-सूरजकुंड सड़क के साथ बने फार्म हाउसों की पत्थर से बनी दीवारें अवैध खनन की तस्दीक करती हैं, क्योंकि संबंधित निर्माण के लिए किसी सरकार महकमे से अनुमति नहीं ली गई है। सर्वे करवाकर नगर निगम खुद ही ऐसे करीब 140 फार्म हाउसों के निर्माण को अवैध घोषित कर चुका है। ------------अरावली कब्जाने के लिए झुग्गियों का सहारा : अरावली को बर्बाद करने के लिए भूमाफिया ने अनेक हथकंडे अपना रखे हैं, जिसकी शुरुआत की कड़ी अवैध झुग्गियां हैं। सूत्रों के मुताबिक भूमाफिया पहले मजदूरों की झुग्गी अरावली में बनानी शुरू करते हैं। इनको सामने रखा जाता है, जब कभी सरकार महकमा इनको तोड़ने जाता है तो गरीबी का हवाला देते हुए अनेक हिमायती सामने आ जाते हैं। नतीजतन हल्की-फुल्की कार्रवाई के बाद जब तोड़फोड़ दस्ता वापस चला जाता है तो फिर शुरू होता है अवैध खनन और अवैध निर्माण का सिलसिला। सुनियोजित ढंग से भूमाफिया झुग्गी बस्तियों के पीछे फार्म हाउसों का निर्माण करते हैं। उनकी ऐसी गतिविधियां मुख्य रोड से किसी को दिखाई नहीं देती हैं।------------------धार्मिक स्थलों को बनाया कवचभूमाफिया अरावली को उजाड़ने में धार्मिक स्थलों का भी सहारा ले रहे हैं। अरावली में बने ऐसे अनेक धार्मिक स्थल हैं, जिनमें लोगों को काफी आस्था है। हालांकि इनमें कई धार्मिक स्थल काफी प्राचीन हैं, जहां श्रद्धालु वर्षों से जा रहे हैं, लेकिन ऐसे स्थलों के आसपास लोगों ने अन्य निर्माण करके सर्वोच्च न्यायालय के आदेशों की धज्जियां उड़ा दी हैं।--------2002 में आया सुप्रीम कोर्ट का आदेशभूजल स्तर का लेकर सर्वोच्च न्यायालय ने छह मई 2002 में अरावली पहाड़ी को वन आरक्षित क्षेत्र घोषित किया। इसके तहत अरावाली में खनन जैसी हर प्रकार की खुदाई पर रोक लगाई गई। अरावली में निर्माण कार्य करने के लिए संबंधित व्यक्ति को वन विभाग से एनओसी लेनी अनिवार्य कर दी। -----------संजय सब्बरवाल, जिला खनन अधिकारी : फरीदाबाद अरावली में खनन नहीं हो रहा है। यदा-कदा पहाड़ी को समतल करने के लिए पत्थर तोड़ने की शिकायत मिलती हैं तो विभाग कार्रवाई करता है। अरावली वन अधिनियम का रकबा: करीब 6062.7 हेक्टेयर

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: In Aravali there are still 20 illegal farm houses