DA Image
हिंदी न्यूज़ › NCR › फरीदाबाद › आंदोलन को आठ माह पूर्व होने पर किसानों ने चेतावनी दिवस मनाया
फरीदाबाद

आंदोलन को आठ माह पूर्व होने पर किसानों ने चेतावनी दिवस मनाया

हिन्दुस्तान टीम,फरीदाबादPublished By: Newswrap
Tue, 27 Jul 2021 11:50 PM
आंदोलन को आठ माह पूर्व होने पर किसानों ने चेतावनी दिवस मनाया

पलवल। केएमपी-केजीपी इंटरचेंज पर कृषि कानूनों के विरोध में चल रहा किसानों का धरना मंगलवार को भी जारी रहा। धरने में रविवार को अनाज मंडी में आयोजित किसान-मजदूर महापंचायत को सफल बनाने के लिए किसान व मजदूरों का आभार व्यक्त किया गया। पंचायत में पारित हुए प्रस्ताव के तहत मंगलवार को तेवतिया पाल ने धरना चलाया। पाल से भारी संख्या में किसान पहुंचे।आंदोलन को आठ माह पूर्व होने पर किसानों ने चेतावनी दिवस मनाया। किसानों ने सरकार को अब आर-पार की लड़ाई लड़ने की चेतावनी देते हुए आंदोलन को तेज करने का निर्णय लिया। धरने में उत्तर प्रदेश में पांच सितंबर को आयोजित महापंचायत में हिस्सा लेने का निर्णय लिया गया।

किसान संघर्ष समिति के नेतृत्व में जारी धरने की अध्यक्षता बिजेंद्र सिंह तेवतिया ने की, जबकि संचालन लखन पाल तेवतिया ने किया। धरने को संबोधित करते हुए किसान नेता मास्टर महेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि 25 जुलाई रविवार को किसान व मजदूरों ने अपनी ताकत दिखाते हुए महापंचायत को सफल किया है, इसके लिए वे बधाई के पात्र हैं। किसानों ने मिशन उत्तर प्रदेश चुनाव को लेकर भी तैयारियां शुरू कर दी हैं। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों में भाजपाका विरोध करने का काम किया जाएगा। इसको लेकर उत्तर प्रदेश के मुजफ्फर नगर में महापंचायत का आयोजन किया जाएगा, जिसमें पांच लाख किसान हिस्सा लेंगे। पंचायत के लिए पाल व खापों में जनसंपर्क अभियान शुरू किया जाएगा। मंगलवार को कंडेला खाप के प्रधान टेकराम कंडेला के नेतृत्व में टीम पलवल धरने पर पहुंची और पंचायत में सहयोग करने की अपील की। धरने में अच्छेलाल जोधपुर, बीर सिंह चौहान, रणजीत व जयदेव मीतरोल ने भजन प्रस्तुत किए।

धरने को किसान नेता ज्ञान सिंह चौहान, हरी नंबरदार, भीम तेवतिया, धनीराम तेवतिया, चंद्रमुनि आर्य, धनीराम डागर, सुभाष अटोहां, देवरत्न सरपंच, हेतलाल पहलवान, श्रवण कुमार सहित अन्य ने संबोधित किया।

संबंधित खबरें