DA Image
हिंदी न्यूज़ › NCR › फरीदाबाद › किसान-जवान में संघर्ष, 14 घायल
फरीदाबाद

किसान-जवान में संघर्ष, 14 घायल

हिन्दुस्तान टीम,फरीदाबादPublished By: Newswrap
Wed, 27 Jan 2021 03:00 AM
किसान-जवान में संघर्ष, 14 घायल

फरीदाबाद/पलवल। हिटी

किसानों की ट्रैक्टर रैली को लेकर दिनभर गहमागहमी रही। दिल्ली की तरफ जा रही ट्रैक्टर रैली को लेकर किसान और पुलिस के बीच नेशनल हाईवे पर सोफ्ता के पास सुबह करीब साढ़े 11 बजे टकराव हो गया। किसान ट्रैक्टरों को लेकर दिल्ली जाना चाहते थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें जाने की अनुमति नहीं दी। किसान नहीं माने तो उन्हें रोकने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। ट्रैक्टरों के टायर की हवा निकाल दी। डीजल सप्लाई करने के पाइप हटा दिए। इस बीच दोनों तरफ से पथराव भी हो गया। इसमें करीब दस किसान घायल हो गए। वहीं करीब चार पुलिसकर्मियों को भी चोटें आई हैं।

सोफ्ता के पास करीब आधे घंटे तक किसान और जवानों के बीच संघर्ष चलता रहा। इसके बाद मामला शांत हुआ, लेकिन किसान हाईवे पर ही धरने पर बैठ गए। ढाई बजे प्रशासन और किसानों की एक कमेटी बनाई। इसमें शाम साढ़े चार बजे किसानों को सिकरी तक 50 ट्रैक्टरों के साथ रैली निकालने की अनुमति दी और उसके बाद किसान वापस अटोंहा धरना स्थल के लिए रवाना हो गए।

ट्रैक्टर रैली को रोकने के लिए पुलिस ने हाईवे पर सोफ्ता के पास करीब एक किलोमीटर तक दोनों लेन पर ट्रक, कंटेनर, हाइड्रा आदि लगाकर बेरिकेडिंग कर रखी थी। आलम यह था कि बाइक को भी रास्ता नहीं दिया गया। पुलिस को आशंका थी कि सामान्य बैरिकेड को किसान तोड़कर आगे बढ़ सकते हैं। इसलिए पुलिस ने हाईवे को भारी वाहनों को पाट दिया। ताकि किसान किसी भी सूरत में दिल्ली के लिए रवाना ना हो सकें।

किसानों को रोकने के लिए पांच हजार जवान तैनात

ट्रैक्टर रैली को रोकने के लिए फरीदाबाद और जिला पलवल में करीब पांच हजार पुलिस के जवानों को तैनात किया गया। पुलिस ने करीब 24 नाके लगाए। अलग-अलग नाकों पर पुलिस की संख्या अलग थी, लेकिन सबसे ज्यादा पुलिस सोफ्ता पर तैनात थी। सीकरी बॉर्डर पर पुलिस ने ट्रक खड़े कर हाईवे पर नाकेबंदी कर दी थी। यहां पर आंसू गैस के गोले छोड़ने वाले दस्ते को भी तैनात किया गया था। इसके बाद पुलिस ने सेक्टर-58 में ट्रांसपोर्ट नगर के पास जाजरू मोड़ भी इसी अंदाज में नाकेबंदी की हुई थी। यहां पर करीब 200 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था। यहां से आगे गुडईयर चौक पर पुलिस ने सरियों से लगे एक ट्रॉले और ट्रक को खड़ाकर नाकेबंदी कर दी थी। इससे आगे वाईएमसीए पुल से उतरते ही पुलिस ने ट्रक लगाकर दिल्ली की ओर जाने वाली लेन पर नाकेबंदी कर दी थी। यहां नाकेबंदी के दौरान सर्विस सड़क पर जाम लग गया था। इस वजह से यहां से वाहन वापस लौटने लगे। करीब पौने घंटे तक यहां पर जाम के हालात बने रहे।

संबंधित खबरें