DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्मार्ट सिटी के कांवड शिविरों में लगेंगे सीसीटीवी कैमेर

फरीदाबाद। वरिष्ठ संवाददातास्मार्ट सिटी फरीदाबाद में इस बार कांवड़ शिविर भी स्मार्ट होंगे। कुछ सामाजिक संस्थाओं ने कांवड़ शिविरों को सीसीटीवी कैमरे की जद में रखने का निर्णय लिया है। प्रशासनिक अधिकारियों ने इसे सराहा है। लेकिन प्रशासन अभी इसे अनिवार्य रूप से लागू नहीं कर रहा है। कांवड़ शिविरों को लेकर सामाजिक संस्थाएं सक्रिए हो गईं और प्रशासन भी शिविरों के लिए दिशा-निर्देश तय करने में जुटा है। बुधवार जिलाधीश की अध्यक्षता में प्रशासनिक अधिकारियों और पुलिस अधिकारियों के बीच इस संबंध में बैठक होगी। सावन माह की शिवरात्रि नौ अगस्त को होने वाले भगवान शिव के जलाभिषेक के लिए गंगाजल की कांवड़ लाने के लिए श्रद्धालुगण हरिद्वार, गंगोत्री, नीलकंठ और ऋषिकेश प्रतिदिन जा रहे हैं। कांवड़ लाते समय उन्हें कोई किसी तरह की परेशानी ना हो। इसके लिए प्रशासन और शिविर लगाने वाली सामाजिक संस्थाएं सक्रिय हो चुकी हैं। प्रशासन ने तय किया है कि सभी शिविर नहर किनारे लगाए जाएंगे। राष्ट्रीय राजमार्ग पर कांवड़ियों को ठहरने नहीं आने दिया जाएगा। केवल वहीं कांवड़िए राष्ट्रीय राजमार्ग पर आएंगे, जिनका शहर में जाने के लिए वैकल्पिक छोटा रास्ता नहीं होगा। इसके मद्देनजर सोमवार को आगरा नहर के साथ वाली सड़क किनारे से अतिक्रमण हटाया गया। जिले में कांवड़ियों के पूरे रास्ते में पुलिस कर्मी उनकी सुरक्षा और हुडदंगियों से निपटने के लिए तैनात रहेंगे। कावंड़ियों की सुरक्षा के लिए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात रहेगा। पलवल, मथुरा कोसी जाने वाले कांवड़ यात्री छह अगस्त के आसपास शहर में आना शुरू कर देंगे, इसलिए कुछ संस्थाओं ने कांवड़ शिविर लगाने के लिए अनुमति मांगी है।कांवड़ियों के सुविधाजनक होंगे शिविरशिवशक्ति कांवड़ सेवा संघ के पदाधिकारी दीपक गुप्ता ने बताया कि इस बार संस्था द्वारा लगाए जाने वाले शिविर सीसीटीवी कैमरों से युक्त होंगे। व्यंजन भी आलू पूडी के बजाए कावंडियों के मद्देनजर मखाने की खीर और दाल सब्जी रोटी की व्यवस्था होगी। शिविर में गीत-संगीत की व्यवस्था होगी। एतमादपुर पुल के पास बीते कई साल से कावंड़ लगाने वाले देवेंद्र सिंह ने बताया कि इस बार शिविर में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। कांवड़ियों की सेवा के लिए अलग अलग लोगों की सेवा लगाई जाएगी। -------सतबीर सिंह मान, एसडीएम: कांवड शिविरों के लिए वैसे तो अभी दिशा-निर्देश तय किए जाने हैं। लेकिन दो शिविरों के बीच करीब दो किलोमीटर की दूरी रहेगी। प्रशासन इस पर विचार कर रहा है। सभी शिविरों के शौचालय अवश्यक हों। इसकी योजना बैठक में तय हो जाएगी। इस संबंध में उम्मीद है कि बुधवार को बैठक होगी। जिसमें तैयारी की योजनाओं को अंतिम रूप दिया जाएगा। फिलहाल किसी संस्था ने अनुमति नहीं ली है। ------------------------------ शहर में कांवड़ियों के प्रमुख मार्गआगरा नहर के किनारे बाई पास सड़कफरीदाबाद-गुरुग्राम सड़कबल्लभगढ़-सोहना सड़क राष्ट्रीय राजमार्ग

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:CCTV cameras will be installed in Kaundvad camps