DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कबाड़े के वजन में हेराफेरी करने पर ठेकेदार समेत तीन पर मामला दर्ज

ग्रेटर फरीदाबाद में माता अमृतानंदमयी मठ की ओर से बनाए जा रहे अस्पताल से निर्माण के दौरान निकल रहे कबाड़ का वजन कम बताकर हेराफेरी करने का मामला सामने आया है। खेड़ी पुल थाना पुलिस ने अस्पताल का निर्माण कार्य कर रही कंपनी के सहायक प्रबंधक की शिकायत पर कबाड़ ठेकेदार, ट्रक मालिक और कांटा मालिक के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस के मुताबिक टाटा प्रोजेक्टस कंपनी को माता अमृतानंदमयी मठ द्वारा बनाए जा रहे अस्पताल के निर्माण का ठेका मिला है। कंपनी ने अस्पताल के निर्माण के दौरान निकल रहे कबाड़ को बेचने का ठेका दिल्ली नजफगढ़ की श्याम इंटरप्राइजेज कंपनी को दिया हुआ था। ठेकेदार की गाड़ी ने अस्पताल परिसर से कबाड़ भरा था। गाड़ी का वजन तुलवाने के लिए टाटा प्रोजेक्टस की ओर से कर्मचारी अनवेश, पुनीत, प्रफुल्लम और सिक्योरिटी गार्ड गाड़ी का वजन करवाने के लिए खेड़ी सड़क पर उमा धर्मकांटा पर गए थे। उस वक्त धर्मकांटा संचालक ने कबाड़ का वजन 10,180 किलोग्राम बताया था। शक होने पर दूसरे धर्मकांटे से वजन करवाया गया तो माल का कुल वजन 19,735 निकला। इस पर सहायक प्रबंधक ने श्याम इंटरप्राइजेज के मालिक, गाड़ी मालिक और उमातप धर्मकांटा के मालिक के खिलाफ खेड़ी पुल थाना में शिकायत दे दी। पुलिस उक्त आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:A case was registered against the contractor