DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टीटीई रखेंगे सुरक्षा, सफाई और खानपान का ख्याल

टीटीई ट्रेन में टिकट ही चेक नहीं करेंगे बल्कि यात्रियों की सुरक्षा, साफ-सफाई और खानपान का भी ख्याल रखेंगे।  रेलमंत्रालय ने ट्रेन अधीक्षक-कंडक्टर की जवाबदेही तय करते हुए नए नियम संबंधी आदेश सभी जोनल रेलवे को भेज दिए हैं। यात्री की शिकायत पर सुनवाई नहीं करने वालों  के  खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी। 

दो दर्जन बिंदु तय 
रेलवे ने 26 बिंदु वाले नए नियमों के आदेश आठ जून को जारी किए।  अब ट्रेन अधीक्षक-कंडक्टर ट्रेन छूटने के एक घंटा पहले प्लेटफार्म पर मौजूद रहेंगे। पहले यह समय आधा घंटा था। सुरक्षा के लिए रात दस बजे से सुबह छह बजे तक कोच के दरवाजे बंद रखना उनकी ड्यूटी में शामिल होगा। रात में ट्रेन के ठहराव पर उन्हें प्लेटफार्म पर उतरना होगा ताकि अराजक तत्व या अवैध यात्री कोच में न घुस सकें।  

चिकित्सा इंतजाम का भी जिम्मा
किसी यात्री की तबीयत खराब होने पर चिकित्सा का इंतजाम करना भी टीटीई का जिम्मेदारी होगी।  कोच और शौचालय को साफ रखना कंडक्टर की जिम्मेदारी में शामिल किया गया है। ऑन बोर्ड हाउस कीपिंग स्टाफ से यह काम उन्हें कराना होगा। पेंट्रीकार वेंडर द्वार यात्री से दुर्व्यवहार अथवा ओवर चार्जिंग के मामले में कंडक्टर को हस्तक्षेप करना होगा। यात्री की शिकायत दर्ज करनी होगी और वेंडर पर कार्रवाई करने के लिए प्रशासन को पत्र लिखना होगा। 

एफआईआर फार्म रखेंगे
टीटीई अपने पास एफआईआर फार्म रखेंगे।  वारदात होने पर यात्री की सूचना को उक्त फार्म में शिकायत दर्ज कराएगा, अगले स्टेशन पर वही फार्म एफआईआर में तब्दील हो जाएगा। उधर, टीटीई एसोशिएसन के महामंत्री महेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि रनिंग स्टाफ पर जरूरत से ज्यादा काम का बोझ डाला जा रहा है। इस आदेश के खिलाफ रेल मंत्री सुरेश प्रभु से मुलाकात करेंगे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: TTE will take care of security, cleanliness and catering