ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशयहीं उतरना पड़ेगा...बीच रास्ते में बोली एयरलाइन; रातभर एयरपोर्ट पर ही बैठे रह गए यात्री

यहीं उतरना पड़ेगा...बीच रास्ते में बोली एयरलाइन; रातभर एयरपोर्ट पर ही बैठे रह गए यात्री

इंडिगो की अमृतसर से चेन्नई के लिए जाने वाली फ्लाइट जब बेंगलुरु पहुंची तो 6 यात्रियों से कहा गया कि वे यहीं उतर जाएं और आगे के लिए दूसरे विमान का प्रबंध किया जाएगा। हालांकि वे रातभर इंतजार ही करते रहे।

यहीं उतरना पड़ेगा...बीच रास्ते में बोली एयरलाइन; रातभर एयरपोर्ट पर ही बैठे रह गए यात्री
Ankit Ojhaएजेंसियां,बेंगलुरुTue, 21 Nov 2023 02:20 PM
ऐप पर पढ़ें

बेंगलुरु से चेन्नई जाने वाली इंडिगो की फ्लाइट से 6 यात्रियों को लालच देकर नीचे उतार दिया गया। इसके बाद उन्हें पूरी रात एयरपोर्ट पर ही बैठे रहना पड़ा। बाद में यात्रियों को पता चला कि उन्हें सिर्फ टरकाया गया है। बता दें कि रविवार को बेंगलुरु एयरपोर्ट से चेन्नई के लिए इंडिगो की फ्लाइट रवाना होने वाली थी। यात्री बैठ भी गए थे लेकिन तभी  यात्रियों को उतरने के लिए कहा गया। उन्हें बताया गया कि दूसरी फ्लाइट से उन्हें बेंगलुरु भेजा जाएगा। 

यात्रियों को बाद में पता चला कि उन्हें इसलिए उतार दिया गया क्योंकि इंडिगो का विमान केवल 6 लोगों को लेकर चेन्नई जाने के मूड में नहीं था। उस विमान में और यात्रियों की बुकिंग नहीं थी। उस रात चेन्नई के लिए दूसरी कोई फ्लाइट नहीं थी। ऐसे में रातभर यात्रिोयं को एयरपोर्ट पर ही रुकना पड़ा। एयरलाइन ने एयरपोर्ट पर उनके रुकने तक का इंतजाम नहीं किया। 

दरअसल विमान अमृतसर से बेंगलुरु होकर चेन्नई जाने वाला था। बेंगलुरु में बाकी यात्री उतर गए और केवल 6 यात्री ही चेन्नई जाने के लिए बचे थे। इंडिगो के सूत्रों का कहना है कि दो यात्रियों को एयरपोर्ट से 13 किलोमीटर की दूरी पर एक होटल में ठहराया गया था। वहीं बाकी यात्रियों ने कहा कि वे एयरपोर्ट पर ही इंतजार करेंगे। सोमवार को सभी को दूसरे विमान से चेन्नई भेजा गया। 

यात्रियों ने झूठ  बोलने के लिए इंडिगो स्टाफ पर नाराजगी जताई। एक यात्री नेकहा, हमारे साथ 6 लोगों को उतार दिया गया। उन्होंने कहा, मेरे पास इंडिगो की तरफ से फोन आया कि मैं उतर जाऊं और अपने बोर्डिंग पास के साथ एयरपोर्ट पर दूसरी फ्लाइट का इंतजार करूं। बताया गया कि थोड़ी देर में दूसरी फ्लाइट चेन्नई जाने वाली है। इसी तरह का फोन बाकी 5 लोगों को भी आया था। जब यात्रियों को पता चला कि उन्हें बेवकूफ बना दिया गया है तो इंडिगो के स्टाफ से शिकायत की। हालांकि यात्रियों का कहना है कि स्टाफ ने अपनी गलती स्वीकार नहीं की।