DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

World Ozone Day 2018: पहली बार 1995 में मनाया गया था वर्ल्ड ओज़ोन डे

world ozone day

वर्ल्ड ओज़ोन डे हर साल 16 सितंबर को मनाया जाता है। 19 दिसंबर 2000 को ओजोन परत की कमी के कारण मॉन्ट्रियल कन्वेंशन पर हस्ताक्षर करने के लिए यह दिवस संयुक्त राष्ट्र द्वारा नामित किया गया था। मॉन्ट्रियल कन्वेंशन दुनिया भर के हानिकारक पदार्थों और गैसों को समाप्त करके ओजोन परत की रक्षा करने के लिए एक अंतरराष्ट्रीय ट्रीटी है। 1995 में इस दिवस को पहली बार मनाया गया था। वर्ल्ड ओज़ोन डे की 2018 की थीम है 'कीप कूल एंड कैरी ऑन'

वर्ल्ड ओज़ोन डे क्यों मनाते है?

यह दिन ओजोन परत को हो रही हानि को लेकर जागरुकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है। यह दिवस जनता के बारे में पर्यावरण के महत्व और इसे सुरक्षित रखने के महत्वपूर्ण साधनों के बारे में शिक्षित करता है।

परत सुरक्षित नहीं रही तो धरती को होगा नुकसान

वैज्ञानिकों का मानना हैं कि ओजोन परत के बिना धरती पर जीवन का अस्तित्व समाप्त हो जाएगा। ओजोन परत के सुरक्षित न होने से लोगों, पेड़ों और पशुओं के जीवन पर बहुत बुरा असर पड़ेगा। ओज़ोन परत कमी से प्राकृतिक संतुलन बिगड़ता है, सर्दियों की तुलना में अधिक गर्मी होती है, सर्दियां अनियमित रूप से आती हैं और ग्लेशियर पिघलने शुरू हो जाते हैं। 

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:world ozone day 2018 know theme 2018 and its importance