DA Image
26 अक्तूबर, 2020|4:34|IST

अगली स्टोरी

वाराणसीः ठंड से बचाने को बड़ा गणेश को रजाई, मूसक को पहनाया शाल

वाराणसी में भीषण ठंड से भगवान को परेशानी का सामना न करना पड़े, इसलिए उन्हें भी ऊनी वस्त्र पहनाए जा रहे हैं। वाराणसी के बड़ा गणेश मंदिर में जहां देवता को रजाई ओढ़ाई गई है, वहीं उनके मूषक ने भी शॉल ओढ़ रखा है। शिव मंदिर में शिवलिंग को शॉल ओढ़ाया गया है।

आचार्य समीर उपाध्याय ने कहा कि मंदिर में एक बार जब देवताओं की प्राण प्रतिष्ठा के बाद स्थापना कर दी जाती है, तब उनकी देखभाल जीवित व्यक्ति की तरह किया जाता है और इसलिए उन्हें हर मौसम से बचाया जाता है।

अयोध्या में भी राम जन्मभूमि स्थल पर रामलला को एक कंबल ओढ़ाया गया है, हालांकि मूर्ति खुले में रखी गई है, इसलिए वहां एक हीट ब्लोअर भी लगाया गया है।

वहीं भगवान कृष्ण के बाल अवतार 'लड्डू गोपाल' का विशेष ध्यान रखा जा रहा है। मथुरा और वृंदावन के विभिन्न मंदिरों में देव को ढंकने के लिए छोटे ऊनी स्वेटर और शॉल का इस्तेमाल किया जा रहा है, वहीं भक्तों के लिए अलाव जलाए जाते हैं। रिपोर्ट के अनुसार, कई मंदिरों में देवी-देवताओं को ऊनी वस्त्र पहनाए और ओढ़ाए जा रहे हैं।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Woolen clothes worn God to protect from cold in Uttar Pradesh