DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विंग कमांडर अभिनंदन की मूंछें बने 'राष्ट्रीय मूंछ', लोकसभा में कांग्रेस ने की सम्मान देने की मांग

Abhinandan Vardhman

लोकसभा में कांग्रेस ने वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को सम्मानित करने की मांग की है। लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को अवार्ड दिया जाना चाहिए और उनकी मूंछों को राष्ट्रीय मूंछ घोषित करना चाहिए। दरअसल, विंग कमांडर अभिनंदन भारतीय और पाकिस्तानी वायुसेना के लड़ाकू विमानों के बीच झड़प के दौरान विंग कमांडर पाकिस्तानी सरजमीं पर पहुंच गए थे, जिसके बाद पाकिस्तान ने उन्हें हिरासत में लिया था। हालांकि, तुरंत भारत और अंतर्राष्ट्रीय दबाव के बीच पाकिस्तान ने उन्हें रिहा कर दिया। इस दौरान अभिनंदन की मूंछ वाली तस्वीर खूब वायरल हुई थी।

बता दें कि लोकसभा चुनाव से पहले चुनावी सभाओं में भी वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन काफी सुर्खियों में रहे थे।भारतीय और पकिस्तान वायुसेना के लड़ाकू विमानों के बीच झड़प के दौरान मिग 21 के गिरने के बाद पायलट अभि नंदन पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में जा गिरे थे। इसके बाद पाकिस्तान ने भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को हिरासत में ले लिया था। भारत ने पाकिस्तान के कार्यवाहक उच्चायुक्त को तलब कर आईएएफ पायलट की तत्काल रिहाई की मांग की थी। भारत के दवाब के आगे झुकते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद में एक विशेष बैठक को संबोधित करते हुए पायलट को रिहा करने की घोषणा की थी।

मिग-21 उड़ाने का लंबा अनुभव 
भारतीय वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान एक रिटायर्ड एयर मार्शल के बेटे हैं। उनका परिवार तमिलनाडु के तिरुवन्नामलाई जिले में रहता है। वह वर्ष 2004 में फाइटर पायलट के तौर पर वायुसेना में शामिल हुए थे। उनका सर्विस नंबर 27981 है। बताया जा रहा है कि विंग कमांडर अभिनंदन के भाई भी वायुसेना में हैं। 38 वर्षीय अभिनंदन वर्तमान में मिग-21 बिसन विमानों की स्क्वाड्रन का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें सुखोई-30 लड़ाकू विमान उड़ाने का भी लंबा अनुभव है। 

दिल्ली में हासिल की उच्च शिक्षा 
अभिनंदन की 12वीं कक्षा तक की स्कूली शिक्षा केंद्रीय विद्यालय बेंगलुरु में हुई। उच्च शिक्षा दिल्ली में पूरी की है। चूंकि उस वक्त उनके पिता दिल्ली में ही पदस्थ थे, इसलिए सारा परिवार यहीं रहा करता था। वह खड़कवासला स्थित राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के छात्र रहे हैं।

बचपन की दोस्त से शादी
अभिनंदन को करीब से जानने वाले उनके दोस्त बताते हैं कि उन्होंने अपनी स्कूल के समय की मित्र तन्वी मारवाह से ही शादी की है। दोनों पांचवीं कक्षा से एक-दूसरे को जानते थे। हालांकि बहुत ही कम लोगों को इस बात के बारे में मालूम था कि दोनों के बीच प्यार का रिश्ता भी है। दोनों ने कॉलेज में माइक्रोबायोलॉजी की डिग्री भी एकसाथ हासिल की थी। अभिनंदन की पत्नी तन्वी मारवाह भी वायुसेना में स्क्वाड्रन लीडर पद पर रही हैं। दोनों के दो बच्चे हैं। अभिनंदन के पिता एस. वर्धमान वायुसेना में एयर मार्शल रहे हैं। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Wing Commander Abhinandan Varthaman moustache should be made national moustache Demands Comngress in Lok sabha