ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशओमिक्रॉन से बचने के लिए भारत में भी लगेगा बूस्टर डोज! सरकार बोली- वैज्ञानिक डेटा की समीक्षा कर रहे हैं

ओमिक्रॉन से बचने के लिए भारत में भी लगेगा बूस्टर डोज! सरकार बोली- वैज्ञानिक डेटा की समीक्षा कर रहे हैं

तेजी से फैल रहे कोरोना के नए ओमिक्रॉन वैरिएंट से बचने के लिए भारत में भी बूस्टर डोज लगाया जा सकता है। इसको लेकर केंद्र सरकार ने कहा है कि जल्द ही फैसला लिया जाएगा। भारत में वैक्सीन बूस्टर शॉट्स दिए...

ओमिक्रॉन से बचने के लिए भारत में भी लगेगा बूस्टर डोज! सरकार बोली- वैज्ञानिक डेटा की समीक्षा कर रहे हैं
Amit Kumarलाइव हिन्‍दुस्‍तान,नई दिल्लीFri, 24 Dec 2021 05:06 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/

तेजी से फैल रहे कोरोना के नए ओमिक्रॉन वैरिएंट से बचने के लिए भारत में भी बूस्टर डोज लगाया जा सकता है। इसको लेकर केंद्र सरकार ने कहा है कि जल्द ही फैसला लिया जाएगा। भारत में वैक्सीन बूस्टर शॉट्स दिए जाने को लेकर आईसीएमआर के डीजी डॉ बलराम भार्गव ने कहा कि विचार-विमर्श जारी है। उन्होंने कहा, "विचार-विमर्श चल रहा है, हम नीति बनाने के लिए वैज्ञानिक डेटा की समीक्षा कर रहे हैं।" बता दें कि दुनिया के कई देशों में कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज दी जा रही है। बूस्टर डोज वैक्सीन की तीसरी खुराक को कहते हैं। यहां तक कि जर्मनी और ब्रिटेन चौथी बूस्टर डोज देने पर भी विचार कर रहे हैं। फिलहाल भारत में अभी कोरोना वैक्सीन की दो ही डोज दी जा रही हैं। 

ओमिक्रॉन वैरिएंट के खिलाफ कितने प्रभावी हैं टीके?

बलराम भार्गव ने कहा, "ICMR और DBT मिलकर वायरस को कल्चर करने का काम कर रहे हैं। हम COVID19 के ओमिक्रॉन वैरिएंट के खिलाफ टीकों की प्रभावकारिता का भी परीक्षण कर रहे हैं।" आईसीएमआर डीजी ने कहा, "हाल ही में पहचाने गए क्लस्टर सहित भारत में प्रमुख स्ट्रेन डेल्टा ही है। इसलिए, हमें कोविड के उपयुक्त व्यवहार और टीकाकरण को बढ़ाने की समान रणनीति के साथ जारी रखने की आवश्यकता है।"

आने वाली है कोरोना की एक और लहर!

वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को SARS-CoV-2 के नए वैरिएंट, ओमिक्रॉन मामलों में वृद्धि के मद्देनजर कोविड-19 महामारी के खिलाफ एक नई चेतावनी जारी की है। 23 दिसंबर को, दुनियाभर में 9 लाख से अधिक कोविड-19 मामले दर्ज किए। ये आंकड़े महामारी की एक नई लहर की ओर इशारा कर रहे हैं। स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने शुक्रवार को मंत्रालय की साप्ताहिक प्रेस वार्ता के दौरान कहा कि भारत हर दिन लगभग 7,000 कोविड मामले दर्ज कर रहा है। पिछले 4 हफ्तों से, भारत में दैनिक मामले 10,000 से नीचे आए हैं। 

epaper