DA Image
4 मार्च, 2021|3:27|IST

अगली स्टोरी

13 महिला सांसदों से लोकसभा स्पीकर ने किया निवेदन, सदन की कार्यवाही में हिस्सा लें

om birla

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने बुधवार को नए सदस्यों से आग्रह किया कि वे संसद में ज्यादा से ज्यादा उपस्थिति दर्ज कराएं। इससे उन्हें वरिष्ठ सदस्यों का मार्गदर्शन मिलेगा। महिला सांसदों को बोलने के अधिक अवसर दिए जाने जरूरत पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि सदन की कार्यवाही में उनके भाग लेने से लोकतंत्र सुदृढ़ होगा। उन्होंने कहा, "संसद में 46 महिला प्रतिनिधि सांसद पहली बार चुनकर आई हैं। इनमें से 13 महिला सांसद जो अब तक बोल नहीं पाई हैं, उनसे आग्रह है कि वह भी सदन की कार्यवाही में हिस्सा लें।"

अध्यक्ष ने सांसदों से सदन में हंगामे और आसन के समक्ष आने की प्रवृत्ति से बचने का भी आग्रह किया। लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि लोकतंत्र में विपक्ष की भूमिका अहम है। विपक्ष संतुलन का काम करता है। सभी जनप्रतिनिधियों को संविधान का सम्मान करना चाहिए।

ईमानदारी से काम करें नवनिर्वाचित जनप्रतिनिधि: राजनाथ
वहीं दूसरी ओर, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने नवनिर्वाचित सांसदों से कहा कि जनता ने उन्हें अपना प्रतिनिधित्व करने का अवसर देकर उनका कद ऊंचा किया है। अब जनता के लिए ईमानदारी से काम करना उनका कर्तव्य है। साथ ही उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों को यह याद रखना चाहिए कि अलग-अलग पार्टियों से होने के बावजूद वे एक राष्ट्र का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

महिलाओं को टैक्स में राहत संभव, सुकन्या समृद्धि योजना में बढ़ सकती है निवेश की सीमा

बुधवार को नवनिर्वाचित सांसदों के एक कार्यक्रम में राजनाथ सिंह ने ये बातें कहीं। उन्होंने सांसदों को सलाह दी कि उन्हें संसदीय नियमों व प्रक्रियाओं और संविधान के प्रावधानों की पूरी जानकारी होनी चाहिए। साथ ही सांसदों को कुशल व लोकप्रिय राजनीतिज्ञों के भाषणों व विचारों से भी सीख लेनी चाहिए।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Will give first time woman MPs chance to speak Says Lok Sabha Speaker Om Birla