ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशकौन है मौलाना सलमान अजहरी, जिसकी जुबान जहरी; पहले से ही दर्ज है केस

कौन है मौलाना सलमान अजहरी, जिसकी जुबान जहरी; पहले से ही दर्ज है केस

मौलान मुफ्ती सलमान अजहरी को गुजरात एटीएस ने मुंबई से गिरफ्तार किया। इसके बाद घाटकोपर थाने लगाया गया। यहां रातभर उसके समर्थकों ने बवाल काटा।

कौन है मौलाना सलमान अजहरी, जिसकी जुबान जहरी; पहले से ही दर्ज है केस
Ankit Ojhaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 05 Feb 2024 12:56 PM
ऐप पर पढ़ें


इस्लामी उपदेशक मुफ्ती सलमान अल अजहरी को गुजरात एटीएस ने मुंबई के घाटकोपर में ले लिया। भड़काऊ भाषण देने के एक मामले में उन्हें हिरासत में लिया गया है। उन्हें रात में घाटकोपर थाने में रखा गया जहां मौलाना के समर्थकों ने जमकर बवाल काटा। बाद में पुलिस को लाठी भी भांजनी पड़ी। दरअसल जूनागढ़ के मैदान में कथित तौर पर विशेष समुदाय के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के आरोप में मौलाना अजहरी के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। यह कार्यक्रम 31 जनवरी को आयोजित किया गया था। दो दिन पहले जूनागढ़ से भी दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था। 

कौन है मुफ्ती सलमान अजहरी?
मौलाना मुफ्ती सलमान अजहरी खुद को मुस्लिम रिसर्च स्कॉलर बताता है। उसने कई संस्थान भी बना रखे हैं। इसमें सलमान अजहरी जामिया रियाजुल जन्नाह, अल अमान एजुकेशन एंड वेलफेर ट्रस्ट और दारुल अमान शामिल हैं। जानकारी के मुताबिक अजहरी ने पढ़ाई एजिप्ट के विश्वविद्यालय से पूरी की है। वह अकसर धार्मिक और सामाजिक कार्यक्रमों में शिरकत करता है। इस्लामी छात्रों में वह काफी लोकप्रिय है। वहीं सोशल मीडिया पर लाखों की संख्या में फॉलोअर हैं। भारत ही नहीं बाहर के लोग भी सोशल मीडिया पर उसके वक्तव्य को खूब देखते-सुनते हैं। कई बार वह भड़काऊ भाषणों को लेकर चर्चा में रह चुका है। 

पहले से केस दर्ज, जमानत पर था बाहर
मुफ्ती अजहरी के खिलाफ पहले भी भड़काऊ भाषण को लेकर केस दर्ज किया जा चुका है। साल 2018 में हिंदुओं के खिलाफ जहर उगलने को लेकर कर्नाटक में केस दर्ज हुआ था। हालांकि कुछ दिन बाद उसे जमानत मिल गई। अब तक उसपर मुकदमा चल रहा है। वहीं इस हेटस्पीच के मामले में मौलाना के वकील ने कहा कि उन्हें अवैध रूप से हिरासत में लिया गया है। उन्हें दो दिन की रिमांड पर भेजा गया है। वहीं गिरफ्तारी के बाद भी मौलाना ने कहा था, मैं अपराधी नहीं हूं। पुलिस जांच कर रही है और मैं जांच में सहयोग करूंगा। 

यति नरसिंहानंद को दी थी चुनौती
अजहरी के फेसबुक पर 3.70 लाख फॉलोअर हैं। इस्टाग्राम पर भी 4 लाख से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं। यूट्यूब पर भी 4 लाख से ज्यादा सब्सक्राइबर हैं। एक बार गाजियाबाद के डासना मंदिर के महंत मंडलेश्वर यति नरसिंहानंद को चुनौती देने की वजह से भी मुफ्ती अजहरी चर्चा में आया था। उसने कहा था कि यति नरसिंहानंद आग पर चलकर दिखाएं। 
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें