DA Image
हिंदी न्यूज़ › देश › 'सॉरी' कहकर सोनिया ने लिया कैप्टन का इस्तीफा, पंजाब में राहुल-प्रियंका की चली?
देश

'सॉरी' कहकर सोनिया ने लिया कैप्टन का इस्तीफा, पंजाब में राहुल-प्रियंका की चली?

वार्ता,नई दिल्लीPublished By: Sudhir Jha
Sat, 18 Sep 2021 08:41 PM
'सॉरी' कहकर सोनिया ने लिया कैप्टन का इस्तीफा, पंजाब में राहुल-प्रियंका की चली?

पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह के शनिवार को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने से साफ हो गया है कि कांग्रेस में सोनिया गांधी कि नहीं चल रही है और पार्टी पर पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी का दबदबा है। कांग्रेस सूत्रों का कहना है कि कैप्टन सिंह के साथ पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी का समर्थन था जबकि राहुल और प्रियंका पूरी तरह से सिद्धू के साथ रहे। उन्हीं के इशारे पर सिद्धू को पंजाब कांग्रेस की कमान भी सौंपी गई थी। 

इस बीच कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने आज केरल में कहा कि कांग्रेस में अब नेतृत्व परिवर्तन होना चाहिए। उनका कहना था कि यदि गांधी को पार्टी का अध्यक्ष बनाना है तो इस दिशा में तत्काल कदम उठाया जाना चाहिए। थरूर ने कहा कि खुद सोनिया गांधी पद से इस्तीफा देना चाहती हैं। पार्टी को मजबूत बनाने के लिए सभी नेता चाहते हैं कि पार्टी अध्यक्ष बदल जाने चाहिए, लेकिन उनके खिलाफ पार्टी में कोई बोल नहीं पाता है। सब उनका सम्मान करते हैं लेकिन अब जो राजनीतिक घटनाक्रम सामने आ रहे हैं उन्हें देखते हुए कांग्रेस नेतृत्व में अब बदलाव ज़रूरी है।

पंजाब में नया मुख्यमंत्री कौन होगा कांग्रेस विधायक दल ने यह जिम्मा पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष को सौंपा दिया है। कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि सिद्धू को पंजाब कांग्रेस की कमान देना और लंबे समय तक सिद्धू-अमरिंदर के बीच चले अंतरकलह की बुनियाद में कांग्रेस आलाकमान की भूमिका से इनकार नहीं किया जा सकता। उनका यह भी कहना है कि प्रियंका वाड्रा और राहुल गांधी शुरू से ही सिद्धू को पंजाब कांग्रेस की कमान सौंपने के पक्ष में रहे हैं। 

राहुल और प्रियंका का मानना है कि युवाओं के हाथ में कांग्रेस की कमान आनी चाहिए। हालांकि, सोनिया गांधी कैप्टन अमरिंदर सिंह की राजनीतिक अहमियत को समझती हैं इसलिए वह कांग्रेस को दोबारा सत्ता में लाने के लिए उन्हें उनके नेतृत्व में चुनाव कराने की पक्षधर रही हैं। सूत्रों ने तर्क दिया है कि बीच में जब कांग्रेस के प्रभारी महासचिव हरीश रावत अंतरकलह को कम कराने के लिए दोनों पक्षों से बात कर रहे थे तो उन्होंने स्पष्ट घोषणा कर दी थी कि पंजाब विधानसभा का अगला चुनाव कैप्टन अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में लड़ा जाएगा। उसी दौरान वह कांग्रेस अध्यक्ष से मिलकर पंजाब गए थे। 

अमरिंदर से सोनिया ने कहा- सॉरी

राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपने के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि कल सोनिया गांधी ने उन्हें फोन करके विधायक दल की बैठक बुलाए जाने की जानकारी दी। इस पर अमरिंदर ने कहा कि वह इस्तीफा दे देंगे। जवाब में सोनिया ने आई एम सॉरी अमरिंदर कहकर उन्हें पद छोड़ने को कह दिया।

संबंधित खबरें