When the shopkeeper did not give free clothes so some people did this - जब दुकानदार ने नहीं दिए मुफ्त कपड़े तो किया ये हाल DA Image
6 दिसंबर, 2019|4:12|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जब दुकानदार ने नहीं दिए मुफ्त कपड़े तो किया ये हाल

shopkeeper

उत्तर प्रदेश के कानपुर के अनवरगंज में रविवार देर रात जुलूस-ए-मोहम्मदी के दौरान आलम मार्केट में मुफ्त में कपड़े न देने पर दबंगों ने तमंचे की बट मारकर युवक का सिर फोड़ दिया। इससे बाजार में अफरातफरी मच गई शोर सुनकर दौड़े लोगों ने विरोध किया तो आरोपितों ने हवाई फायरिंग कर दी। पुलिस ने पांच युवकों को हिरासत में लिया।

बेबीस कंपाउंड के पास मो. आलम की रेडीमेड शॉप है। रविवार देर शाम आलम का छोटा भाई रईस दुकान पर बैठा था। जुलूस-ए-मोहम्मदी के चलते देर शाम को बिक्री बंद थी। जुलूस निकलने के बाद देर रात इलाके का खुर्शीद अपने दर्जन भर साथियों के साथ दुकान पहुंचा और गाली गलौज करते हुए मुफ्त में कपड़े देने को कहा। रईस और दुकान में काम करने वाले नाला रोड निवासी आदिल उर्फ शानू ने विरोध किया। आरोप है कि इस पर खुर्शीद ने आदिल के सिर पर तमंचे की बट मारकर उसका सिर फोड़ दिया। 

शोर सुनकर आलम व इलाकाई लोग पहुंचे तो आरोपित हवाई फायरिंग करते हुए भाग निकले। बवाल की सूचना पर पहुंची पुलिस ने पांच युवकों को हिरासत में लिया और सभी को थाने लाई। इस दौरान दर्जनों की संख्या में लोग थाने पहुंच गए और इंस्पेक्टर से दबाव डालकर समझौता करा दिया इतना ही नहीं पुलिस ने घायल आदिल का मेडिकल तक कराना जरूरी नहीं समझा। इंस्पेक्टर रमाकांत पचौरी ने बताया कि युवकों में जुलूस के दौरान फल फेंकने को लेकर मारपीट हुई थी इस पर दोनों पक्षों ने समझौता कर लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:When the shopkeeper did not give free clothes so some people did this