ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशतमिलनाडु में NDA एक भी सीट नहीं जीत पाई तो PM मोदी की नम हो गई थीं आंखें; DMK का दावा

तमिलनाडु में NDA एक भी सीट नहीं जीत पाई तो PM मोदी की नम हो गई थीं आंखें; DMK का दावा

Tamil Nadu NDA : हालिया लोकसभा चुनावों में तमिलनाडु की 39 लोकसभा सीटों में सभी सीटों पर इंडिया अलायंस ने जीत दर्ज की है। गठबंधन के तहत डीएमके ने 22 और कांग्रेस ने 9 सीटें जीती थीं।

तमिलनाडु में NDA एक भी सीट नहीं जीत पाई तो PM मोदी की नम हो गई थीं आंखें; DMK का दावा
Pramod Kumarएजेंसी,चेन्नईMon, 17 Jun 2024 04:22 PM
ऐप पर पढ़ें

तमिलनाडु की सत्ताधारी पार्टी द्रविड़ मुनेत्र कषगम (डीएमके) के तमिल मुखपत्र ‘मुरासोली’ में सोमवार को दावा किया गया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हाल ही में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के सांसदों की बैठक में ‘नम आंखों’ के साथ कहा था कि वे तमिलनाडु में एक भी लोकसभा सीट नहीं जीत सके। मुरासोली ने अपने 17 जून के संस्करण में कहा, ‘‘उन्होंने (प्रधानमंत्री मोदी) यह नहीं बताया कि वे क्यों नहीं जीत सके। ऐसा प्रतीत होता है कि उन्हें इसकी वजह पता नहीं है। अगर उन्हें पता भी है तो भी वे इसकी वजह नहीं बताएंगे और वे इसका खुलासा नहीं करेंगे।’’

इसमें कहा गया, ‘‘तमिलनाडु में द्रमुक नीत विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ पिछले पांच वर्षों से फासीवादी भारतीय जनता पार्टी खिलाफ लोकतांत्रिक लड़ाई लड़ रहा है।’’ द्रमुक और उसके सहयोगियों ने जमीनी स्तर पर अभियान के जरिए लोकसभा चुनावों में भारी जीत हासिल की और राज्य की सभी 39 सीटों पर कब्जा जमाया।

दैनिक अखबार में कहा गया कि डीएमके अध्यक्ष एम के स्टालिन ने 15 जून को कोयंबटूर में एक कार्यक्रम के दौरान अपने संबोधन में जीत को द्रमुक कार्यकर्ताओं, इंडिया घटक के दलों के कार्यकर्ताओं और गठबंधन दलों के सभी नेताओं को समर्पित किया। अखबार ने लिखा है, ‘‘हां, आज की राजनीति में द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन एक असाधारण नेता हैं।’’ इसमें यह भी कहा गया कि लोकसभा चुनाव में शानदार जीत मुख्यमंत्री के प्रयासों से मिली। द्रमुक और उसके सहयोगियों ने तमिलनाडु के अलावा पड़ोसी पुदुचेरी की एकमात्र सीट भी अपने नाम की थी।

बता दें कि हालिया लोकसभा चुनावों में तमिलनाडु की 39 लोकसभा सीटों में  सभी सीटों पर इंडिया अलायंस ने जीत दर्ज की है। गठबंधन के तहत डीएमके ने 22, कांग्रेस ने 9 और अन्य सहयोगियों ने 8 सीटें जीती हैं। मुख्य विपक्षी AIADMK और बीजेपी की अगुवाई वाला एनडीए गठबंधन एक भी सीट नहीं जीत सका।