DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिल्ली में बिछी धूल की चादर तो यूपी-उत्तराखंड में आंधी-पानी से नुकसान, जानें मौसम का हाल

                     -

बीते कुछ दिनों से भीषण गर्मी झेल रहे दिल्ली वासियों को बुधवार की शाम थोडी़ राहत मिली। दिल्ली एनसीआर में बुधवार की शाम मौसम ने अचानक करवट ली और तेज हवाओं और धूल भरी आंधी से चारों ओर धूल की चादर फैल गई। हालांकि, दिल्ली में धूल भरी आंधी की वजह से इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर विमानों के परिचालन पर भी असर पड़ा और सेवाओं को कुछ देर के लिए रोका गया है। दिल्ली एनसीआर के अलादा देश के विभिन्न इलाकों में मौसम कुछ बदला-बदला सा नजर आया। यूपी, बिहार, झारखंड और उत्तराखंड में तेज आंधी-पानी की खबरें मिली। गर्मी से लोगों को राहत तो मिली, मगर लोगों को काफी नुकसान भी हुआ। तो चलिए जानते हैं कहां रहा कैसा मौसम...

यह भी पढ़ें: दिल्ली में आंधी के बाद वाराणसी एयरपोर्ट पर अलर्ट, बाबतपुर की ओर कई विमान डायवर्ट

दिल्ली में धूल भरी आंधी और हवाईअड्डे पर विमान परिचालन पर असर
दिल्ली में बुधवार को चली तेज आंधी के बाद दिल्ली अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर विमान परिचालन करीब 35 मिनट के लिए रोकना पड़ा। हवाईअड्डे के अधिकारियों ने कहा, ''दिल्ली हवाईअड्डे पर आज शाम 6:39 बजे आंधी आई। दिल्ली हवाईअड्डे पर अंतिम उड़ान शाम 6:36 बजे पहुंची थी। हवाईअड्डे से अंतिम उड़ान 6:38 बजे रवाना हुई। उन्होंने कहा कि शाम 7:15 बजे तक हवाईअड्डे से कुल नौ विमानों का रुख मोड़ना पड़ा। अधिकारियों के अनुसार, ''हवाईअड्डे पर विमान परिचालन शाम 7:15 बजे पुन: शुरू हुआ।

यह भी पढ़ें: दिल्ली में धूलभरी आंधी के बाद एयरपोर्ट पर विमानों के परिचालन पर असर, सेवाएं कुछ देर के लिए निलंबित

मौसम विभाग ने बताया कि आंधी की वजह से शहर के ऊपर धुंध की मोटी चादर छा गई जिससे दृश्यता प्रभावित हुई। दिल्‍ली के आसपास नोएडा में भी धूल भरी आंधी चलने की वजह से लोगों को थोड़ी परेशानी झेलनी पड़ी।  विभाग के अधिकारी ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ की वजह से गरज और हल्की बारिश होने के भी आसार हैं, जिससे पारे के लुढकने की संभावना है। निजी मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काइमेट वेदर ने बताया कि दिल्ली और एनसीआर के कुछ हिस्सों में 'भारी बारिश हो सकती है।

खराब मौसम के चलते वाराणसी एयरपोर्ट पर हुई लैंडिंग
मौसम खराब होने की वजह से बुधवार को दिल्ली से गोरखपुर आ रही स्पाइस जेट की फ्लाइट को वाराणसी एयरपोर्ट पर डायवर्ट कर दिया गया। करीब एक घंटे बाद गोरखपुर एयरपोर्ट से हरी झंडी मिलने के बाद 2:35 बड़े वाराणसी से उड़कर तीन बजे गोरखपुर पहुंची। फ्लाइट के डायवर्ट होने पर यात्री परेशान हो गए। एक बार सभी को लगा उन्हें वाराणसी से बाई रोड गोरखपुर तक आना पड़ेगा। रोज की तरह बुधवार को भी स्पाइस जेट की फ्लाइट संख्या एसजी-8475 निर्धारित समय 11:10 बजे दिल्ली से गोरखपुर के लिए उड़ी। फ्लाइट अभी रास्ते में ही थी कि अचानक से मौसम खराब होने की सूचना मिली। गोरखपुर एयरपोर्ट निदेशक अनिल द्विवेदी ने बताया कि मौसम खराब होने की वजह से सुरक्षित लैंडिंग के लिए फ्लाइट को वाराणसी एयरपोर्ट पर डायवर्ट कर दिया। वाराणसी एयरपोर्ट पर फ्लाइट की सुरक्षित लैंडिंग करा दी गई।  वाराणसी से करीब एक घंटे बाद उड़ान भरकर विमान तीन बजे गोरखपुर एयरपोर्ट पहुंचा। इसके साथ ही दिल्ली, मुम्बई, कोलकाता और बंगलुरू जाने वाली फ्लाइट एक से डेढ़ घंटे देरी से उड़ी।  

यह भी पढ़ें: VIDEO: तेज आंधी-पानी से उखड़े होडिँग-बैनर और टूटीं पेड़ की डालियां

झारखंड के पलामू में आंधी-पानी से भारी नुकसान
गढ़वा और पलामू जिले में बुधवार की शाम अचानक मौसम बदला और बारिश हुई। कई जगह आंधी और ओलावृष्टि से नुकसान की भी सूचना है। गढ़वा थाना के कांडी थाना क्षेत्र में शाम चार बजे आ तेज आंधी- पानी व ओलावृष्टि से ग्रामीणों को काफी क्षति हुई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार अचानक आई तेज आंधी-पानी व ओलावृष्टि से कई लोगों के मकानों को भारी नुकसान पहुंचा है। कई जगह पेड़ धाराशाई हो गए हैं। सोहगाड़ा गांव में सुंडीपुर-मझिआंव मुख्य सड़क पर एक बड़ा पेड़ गिरने से रास्ता बंद हो गया है। समाचार लिखे जाने तक ग्रामीण पेड़ को हटाने की मशक्कत में लगे थे। वहीं बहेरा गांव के दुर्गा मंडप के करकट की छत उड़ गई है। ओधौड़ा , सेतो, राणाडीह और गरदाहा गांव में ज्यादा नुकसान हुआ है। आंधी से पहाड़ी क्षेत्र के पंचायतों में काफी नुकसान होने की खबर है। वहीं हेठार क्षेत्र में कम नुकसान की खबर है। समाचार लिखे जाने तक कई अन्य गांवों से नुकसान की खबर मिल रही थी। पलामू जिले में नुकसान की सूचना नहीं है लेकिन बारिस के चलते लोगों ने गर्मी से राहत पाई है। 

यह भी पढ़ें:सिद्धार्थनगर में आंधी-पानी और आकाशीय बिजली से चार की मौत, तीन घायल

उत्तराखंड के कुमाऊं में आंधी-पानी से तीन की मौत
कुमाऊं में अंधड़ और बारिश के कारण दो अलग-अलग जगहों पर हुए हादसों में दो युवकों समेत तीन लोगों की मौत हो गई।  कई शहरों में बिजली गुल हो गई वहीं संचार व्यवस्था भी ठप हो गई। कुमाऊं में मंगलवार शाम और बुधवार तड़के तेज अंधड़ के साथ कई जगह भारी बारिश हुई। बुधवार सुबह करीब 5 बजे  ऊधमसिंह नगर के दिनेशपुर निवासी दीपक बिष्ट (21) , गौरव ओली, निवासी बरेली हाल निवासी नवाबी रोड और चेतन पंत निवासी कुसुमखेड़ा एक बाइक पर काठगोदाम से हल्द्वानी आ रहे थे। अंधड़ के दौरान नियंत्रण खोने से तीनों निर्मला कान्वेंट स्कूल के सामने पेड़ में जा भिड़े। हादसे में दीपक बिष्ट और गौरव ओली की मौत हो गई। जबकि चेतन को गंभीर हालत में भर्ती कर लिया गया है। सितारगंज के गोविंदपुर गांव में बेटी के घर आए सेमलपुरा निवासी 68 वर्षीय धर्मपाल पर झोपड़ी गिर गई। हादसे में बुजुर्ग की मौके पर ही मौत हो गई। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:weather today Heavy dust storm hits Delhi Ncr Uttar Pradesh IMD