DA Image
18 जनवरी, 2020|8:27|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Weather Forecast Update: राजधानी दिल्ली में तेज बारिश, लद्दाख में बर्फबारी

 rain in delhi

पश्चिमी विक्षोभ के प्रभावी होने के साथ ही दिल्ली में गुरुवार रात तेज बारिश हुई।इसके चलते दिल्ली वालों को प्रदूषण धूलने व वायु संचार बेहतर होने की उम्मीद है। जिसके चलते शुक्रवार को वायु सूचकांक मध्यम श्रेणी में दर्ज किया जा सकता है। वहीं  जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बुधवार को हल्की बर्फबारी हुई। रात के तापमान में भी इजाफा हुआ। मौसम विभाग ने दोनों केंद्र शासित प्रदेशों में ऑरेंज चेतावनी जारी की है। पश्चिमी विक्षोभ की वजह से बृहस्पतिवार और शुक्रवार को यहां मध्यम से भारी बर्फबारी और बारिश का पूर्वानुमान है।

बारिश-तेज हवा से सुधरेगी दिल्ली की वायु गुणवत्ता

दिल्ली के प्रदूषण में लगातार बढ़ोतरी जारी है। दिसबंर महीने में पहली बार बुधवार को दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक गंभीर श्रेणी में दर्ज किया गया है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार बुधवार को दिल्ली का सूचकांक 408 रहा है, जो मंगलवार को दर्ज सूचकांक से 39 अधिक है। बुधवार को दिल्ली के प्रदूषण में पीएम 2.5 भी बढ़ोतरी के साथ 264 माइक्रो क्यूबिक घनमीटर और पीएम 10 भी 417 माइक्रो क्यूबिक घनमीटर दर्ज किया गया है। इससे पूर्व 16 नवंबर को पीएम 2.5 की मात्रा 263 और पीएम 10 की मात्रा 416 माइक्रो क्यूबिक घनमीटर दर्ज की गई थी। पृथ्वी विज्ञान के संस्थान सफर के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के प्रभावी होने के साथ ही गुरुवार से दिल्ली की वायु गुणवत्ता में सुधार होना शुरू हो जाएगा। गुरुवार देर रात बारिश व शुक्रवार बारिश के साथ ही प्रदूषण धूलने व वायु संचार बेहतर होने की उम्मीद है। जिसके चलते शुक्रवार को वायु सूचकांक मध्यम श्रेणी में दर्ज किया जा सकता है।

उत्तराखंड : केदारनाथ में हल्की बर्फबारी, निचले इलाकों में बढ़ी ठंड

कश्मीर में हल्की बर्फबारी
मौसम विभाग के अधिकारी ने कहा कि उत्तरी कश्मीर के स्की रिजॉर्ट गुलमर्ग, दक्षिण में पहलगाम और मध्य कश्मीर के सोनमर्ग व अन्य ऊंचाई वाले क्षेत्र में बुधवार को हल्की बर्फबारी हुई। उन्होंने बताया कि कश्मीर में आने वाले दिनों में दृश्यता में सुधार हो सकता है। दरअसल पिछले चार दिनों से घने कोहरे की वजह से श्रीनगर हवाई अड्डे पर सभी उड़ानें रद्द हैं। अधिकारियों ने बताया कि मैदानी क्षेत्रों में आकाश में बादल छाए हैं और धुंध भी है। जम्मू और लद्दाख क्षेत्र में आंशिक रूप से बादल छाया है। कश्मीर के मैदानी इलाकों में मध्यम बर्फबारी हो सकती है। जबकि, कश्मीर, जम्मू और लद्दाख के उंचाई वाले क्षेत्रों में 12-13 दिसंबर को भारी बर्फबारी हो सकती है।

रात के तापमान में सुधार 
मौसम के पूर्वानुमान के अनुसार जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में रात के तापमान में सुधार हुआ है। औसत तापमान के नजदीक पहुंचा है। लद्दाख के द्रास में भी रात के तापमान  शून्य से 15.3 डिग्री सेल्सियस नीचे है। इससे पहले रात में तापमान शून्य से 19 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया था। इसके अलावा लेह, श्रीनगर जम्मू में रात के तापामान में सुधार हुआ है। 

घाटी से सभी उड़ानें रद्द 
कश्मीर घाटी में घने कोहरे के चलते श्रीनगर हवाई अड्डे पर बुधवार को लगातार पांचवें दिन उड़ान परिचालन निलंबित रहा। घाटी से सभी उड़ानें रद्द कर दी गईं। भारतीय विमानपत्तनम प्राधिकरण के एक अधिकारी ने कहा कि हवाई अड्डे पर घने कोहरे से दृश्यता केवल 100 से 500 मीटर तक ही थी। जबकि विमान परिचालन के लिए आवश्यक निम्न दृश्यता 1000-1200 मीटर होनी चाहिए। इसलिए बुधवार की सभी उड़ानें रद्द करनी पड़ीं। हवाई अड्डे पर पिछले छह दिनों से विमानों का परिचालन बुरी तरह प्रभावित है।

मुगल रोड और श्रीनगर-लेह राजमार्ग बंद
जम्मू कश्मीर में ऊपरी इलाकों में ताजा हिमपात के कारण मुगल रोड और 434 किलोमीटर लंबे श्रीनगर-लेह राष्ट्रीय राजमार्ग को बुधवार को बंद करना पड़ा। यातायात विभाग के अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ताजा हिमपात के कारण बांदीपुरा-गुरेज और कुपवाड़ा-तंगधार-करनाह सड़कों को भी बंद कर दिया गया है। कश्मीर को लद्दाख से जोड़ने वाली एकमात्र सड़क श्रीनगर-लेह राजमार्ग पर सोनमार्ग-जोजिला दर्रे में हिमपात हो रहा है। कश्मीर को देश के बाकी हिस्सों से जोड़ने वाला 270 किलोमीटर लंबा जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग खुला हुआ है, लेकिन यातायात केवल एकतरफा है। उन्होंने बताया कि राजमार्ग पर केवल श्रीनगर जाने वाले वाहनों को जाने की अनुमति है। कश्मीर प्रशासन ने घाटी में सड़कों पर से बर्फ हटाने के लिए 154 मशीनों को काम में लगाया है।

केदारनाथ में हल्की बर्फबारी
केदारनाथ में  बुधवार शाम हल्की बर्फबारी हुई। सुबह से ही मुख्यालय सहित जिले के अनेक स्थानों पर आसमान में बादल छाए रहे। केदारनाथ धाम में दोपहर तीन बजे के बाद मौसम में और खराबी आई और सांय होते ही हल्की बर्फबारी हुई। उधर, आदिगुरू शंकराचार्य के समाधि स्थल के पुननिर्माण समेत अन्य कार्य चलते रहे। वुड स्टोन के टीम प्रभारी मनोज सेमवाल ने बताया कि बीते चार दिनों तक धाम में मौसम सुहावना था। जिस कारण कार्य तेजी से हो रहे थे, किंतु बुधवार को मौसम के खराब होने से ठंड बढ़ गई है। धाम में अधिकतम तापमान 10 डिग्री व न्यूनतम माइनस 4 डिग्री सेल्सियश दर्ज किया गया। रात को यहां पारा माइनस 10 तक गिर रहा है, जिससे कड़ाके की ठंड पड़ रही है। वहीं जिला मुख्यालय सहित जिले के अनेक स्थानों पर दिनभर मौसम खराब होता रहा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Weather Forecast Update: rain in Delhi today and tomorrow Orange alert issued after snowfall in Kashmir and Ladakh