DA Image
19 जनवरी, 2020|7:52|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हरियाणा में कमजोर किया, महाराष्ट्र में रोका, झारखंड में करते हैं BJP को हराने की अपील: चिदंबरम

कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने झारखंड में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि हमने हरियाणा में भाजपा को कमजोर किया, महाराष्ट्र में उसे सत्ता में आने से रोक दिया और लोगों से झारखंड में भाजपा को हराने की अपील करते हैं। झारखंड का यह चुनाव एक तरफ भाजपा और दूसरी तरफ धर्मनिरपेक्ष प्रगतिशील दलों के बीच चल रहे संघर्ष में एक महत्वपूर्ण पड़ाव सिद्ध होगा। आज बाबासाहेब अंबेडकर को श्रद्धांजलि देकर और यह शपथ लेकर शुरू करना चाहता हूं कि कांग्रेस पार्टी बाबा साहेब द्वारा प्रदत्त संविधान में निहित संवैधानिक मूल्यों के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। जबकि भाजपा बाबा साहेब के संविधान के लिए प्रतिबद्ध नहीं है। क्योंकि, संविधान के विषय में भाजपा का अपना मत है और इसलिए हमें इस विपरीत एवं भारत में फैली एक जहरीली विचारधारा से उत्पन्न बड़े खतरे के प्रति सतर्क रहना चाहिए। आपको बता दें कि आईएनएक्स मीडिया

Congress leader P Chidambaram की प्रेस कॉन्फ्रेंस की खास बातें

1- यह चुनाव एक राज्य सरकार को चुनने के बारे में है, जिसमें 81 सदस्य चुने जाते हैं, जो राज्य को 5 साल तक चलाएंगे। मैं झारखंड के लोगों से अपील करता हूं कि वे स्पष्ट रहें कि ये 81 लोग कौन होंगे? 

2- इस चुनाव में इसकी कोई प्रासंगिकता नहीं है कि केरल या असम या मेघालय में क्या हो रहा है, कृपया उन 81 लोगों पर ध्यान केंद्रित करें, जिन्हें यहां चुना जाना है। इसलिए इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में मैं केवल उन मुद्दों को संबोधित करना चाहता हूं जो झारखंड को प्रभावित करते हैं।

3- भारत की अर्थव्यवस्था गहरे संकट में है। फरवरी 2019 में, RBI ने चालू वर्ष के लिए विकास दर 7.4% रहने का अनुमान लगाया। दिसंबर 2019 में यह घटकर 5% रह गया। पहले कभी ऐसा नहीं हुआ, 10 महीने में RBI ने इसे 7.4% से घटाकर 5% कर दिया। यह 5% से भी नीचे जाएगा। 

4- देश की अर्थव्यवस्था अयोग्य हाथों में है। यदि भारत की अर्थव्यवस्था में तेजी आती है, तो महाराष्ट्र, तमिलनाडु, केरल तेजी से विकास करेंगे, झारखंड भी करेगा, मगर जब भारत की अर्थव्यवस्था डूबती है, तो इसका असर इन राज्यों के बजाय झारखंड पर ज्यादा होगा 

5- झारखंड की अर्थव्यवस्था और भी अधिक अयोग्य हाथों में है। पिछले पांच वर्षों में, राज्य बहुत बुरी तरह से पिछड़ गया है। झारखंड की विकास दर राष्ट्रीय औसत से 2% कम है, प्रति व्यक्ति आय, के मामले में 33 राज्यों में झारखंड 28 वें स्थान पर था, अब यह 30 पर आ गया है।

6- झारखंड में वास्तव में गरीबी बढ़ी है। 2011-2012 से 2017-2018 के बीच गरीबी में 8.6% की वृद्धि हुई। डबल इंजन ग्रोथ ने वास्तव में झारखंड के कर्ज को 2014-2015 में 43 हजार करोड़ से बढ़ाकर 2018-2019 में 85 हजार करोड़ कर दिया है। यह वास्तव में दोगुना हो गया है।

7- शुरू होने वाले या चलने वाले सभी उद्योगों में से 44% ठप हो गए हैं। यह CMIE के आंकड़े हैं। जमशेदपुर में टाटा मोटर्स का प्लांट महीने में कई दिन बंद रहता है। झारखंड में कार, कोयला, स्टील, सहायक उद्योगों को बंद कर दिया गया है

8- झारखंड 15.1% की बेरोजगारी के साथ देश में चौथे स्थान पर है। यहां आपके लिए होना ये चाहिए कि झारखंड में क्या किया जाना चाहिए, क्या किया जा सकता है और इसे किस समय सीमा में लागू किया जा सकता है।

9- कांग्रेस वादा कर रही है कि हर परिवार के एक सदस्य को नौकरी प्रदान की जाएगी अन्यथा व्यक्ति को बेरोजगारी भत्ता प्रदान किया जाएगा। यह पहला वादा है, जो हम कर रहे हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Weakened in Haryana stopped in Maharashtra and appeals to defeat BJP in Jharkhand: P Chidambaram