DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कमजोर पड़ा मानसून, छह-सात दिन आगे बढ़ने की उम्मीद नहीं

बारिश

केरल के तटीय क्षेत्र और मुंबई में समय से पहले पहुंचने के बाद दक्षिण पश्चिम मानसून कमजोर पड़ गया है। ऐसे में अगले छह-सात दिन तक उसके आगे बढ़ने की उम्मीद नहीं है।

मौसम विभाग के शनिवार को जारी पूवार्नुमान में कहा गया है कि मानसून का पैटर्न कमजोर बने रहने के कारण अगले छह-सात दिन तक दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने की संभावना नहीं है। अभी मानूसन (पश्चिम से पूर्व) ठाणे और मुंबई, अहमदनगर, बुलढाणा, अमरावती, गोंदिया, टीटलागढ़, कटक, मिदनापुर, गोअलपारा और बागडोगरा तक पहुंचा है। इस बार मानसून समय से पहले 29 मई को ही केरल तट पर पहुंच गया था। इसके बाद दक्षिण भारत और मुंबई में भारी बारिश हुई। मुंबई में भी यह समय से पहले पहुंचा था। पिछले चार-पांच दिनों में इसकी प्रगति कुछ सुस्त रही है। मौसम विभाग के अनुसार, 1 से 16 जून के बीच देश भर में औसतन 72.4 मिलीमीटर बारिश हुई है, जो इसी अवधि के दीर्घावधि औसत (67.1 मिलीमीटर) से आठ प्रतिशत अधिक है। विभाग ने इस साल मानसून के सामान्य रहने और औसत के 97 प्रतिशत बारिश का पूवार्नुमान जताया है। जून से सितंबर तक मानसून का मौसम माना जाता है।  

गर्मी का कहर जारी, ओडिशा में स्कूलों में छुट्टियां बढ़ीं    
भीषण गर्मी से कई राज्यों में लोगों की परेशानी कम होती नहीं दिख रही है। ओडिशा, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड के ज्यादातर हिस्सों में दिन का तापमान सामान्य से अधिक रिकार्ड किया गया। बिहार के गया में सबसे अधिक 43.5 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। सिक्किम, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और गुजरात के कुछ हिस्सों में पारा सामान्य से अधिक रहा। इस बीच ओडिशा सरकार ने भीषण गर्मी की वजह से स्कूलों में ग्रीष्मकालीन अवकाश और तीन दिनों के लिए बढ़ा दिया है। स्कूल और जन शिक्षा विभाग के सचिव पीके मोहपात्रा ने बताया कि ग्रीष्मकालीन अवकाश के बाद स्कूल 18 जून को फिर से खुलने थे, लेकिन अब स्कूल 21 जून से खुलेंगे।   

पंजाब, हरियाणा में कई जगह बारिश, धूल भरी धुंध से राहत
चंडीगढ़। चंडीगढ़  और पंजाब एवं हरियाणा के कई हिस्सों में शनिवार को बारिश होने से लोगों को राहत मिली। पिछले तीन दिन से छाई धूल भरी धुंध भी छट गई और कम दृश्यता की वजह से प्रभावित हुईं उड़ानें भी शुरू हो गईं। 
मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि बारिश के बाद तापमान में कई डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई। चंडीगढ़ अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के अधिकारियों ने बताया कि धूल भरी धुंध के चलते कम दृश्यता की स्थिति थी, जिससे उड़ानों पर बुरा असर पड़ा था। बारिश से धुंध छंटने के साथ ही प्रभावित उड़ान परिचालन से शुरू हो गया। पिछले दो दिन में कम दृश्यता के चलते ज्यादातर उड़ानें रद्द करनी पड़ी थीं। पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में धूल भरी धुंध के चलते पिछले तीन दिनों में वायु गुणवत्ता पर भी बुरा असर पड़ा था। 

उत्तर प्रदेश-बिहार में आज बारिश के आसार 
मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटे में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पंजाब, हिमाचल प्रदेश और जम्मू के कई इलाकों में तेज हवा के साथ बारिश होने के आसार हैं। इनके अलावा अंडमान निकोबार द्वीप समूह, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, पश्चिम बंगाल के पर्वतीय क्षेत्र, सिक्किम, उत्तराखंड, कोंकण, उत्तरी आंतरिक तमिलनाडु और गोवा में भी बारिश का अनुमान जताया गया है। अंडमान निकोबार द्वीप समूह के आसपास तूफानी मौसम का अनुमान है। मछुआरों को समुद्र के अंदर जाने के समय सतर्क रहने की सलाह दी गई है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Weak monsoon not expected to go ahead for six to seven days