Sunday, January 23, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशखट्टर से मुलाकात में पकी सियासी खिचड़ी? अमरिंदर सिंह बोले- इंतजार कीजिए, हम पंजाब में सरकार बनाएंगे

खट्टर से मुलाकात में पकी सियासी खिचड़ी? अमरिंदर सिंह बोले- इंतजार कीजिए, हम पंजाब में सरकार बनाएंगे

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीShankar Pandit
Mon, 29 Nov 2021 01:56 PM
खट्टर से मुलाकात में पकी सियासी खिचड़ी? अमरिंदर सिंह बोले- इंतजार कीजिए, हम पंजाब में सरकार बनाएंगे

इस खबर को सुनें

कांग्रेस से अलग होकर नई पार्टी बनाने का ऐलान कर चुके पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मुलाकात कर सियासी पारा बढ़ा दिया है। मनोहर लाल खट्टर से मुलाकात के बाद अमरिंदर सिंह ने कहा कि वह सहयोगियों के साथ मिलकर पंजाब में सरकार बनाएंगे। भले ही कैप्टन अमरिंद सिंह इस मुलाकात को शिष्टाचार मुलकात बता रहे हों, मगर सियासी गलियारों में भाजपा संग गठबंधन की चर्चा भी जोरों पर है। 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, कैप्टन अमरिंदर सिंह ने चंडीगढ़ में मनोहर लाल खट्टर के आवास पर जाकर उनसे मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद कैप्टन ने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के साथ यह शिष्टाचार मुलाकात थी। उन्होंने आगे कहा कि हमारा सदस्यता अभियान बहुत अच्छा चल रहा है, समय का इंतजार करिए। हम (अपने सहयोगियों के साथ) सरकार बनाएंगे (पंजाब में)।

बता दें कि बीते दिनों पंजाब में कांग्रेस ने अमरिंदर सिंह को मुख्यमंत्री पद से हटाकर चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाया था। इसके बाद कैप्टन ने अपमान बताकर पार्टी से इस्तीफा दिया था। हालांकि, उन्होंने अबतक आधिकारिक तौर पर भाजपा से गठबंधन नहीं किया है, मगर कुछ खिचड़ी जरूर पक रही है। 

बीते दिनों पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह अपने गढ़ पटियाला से ही विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपने फेसबुक पर लिखा, ‘मैं पटियाला से चुनाव लड़ूंगा। बीते 400 सालों से पटियाला हमारे साथ रहा है। और मैं इसे सिद्धू की वजह से छोड़ने वाला नहीं हूं। पटियाला हमेशा से ही कैप्टन परिवार का गढ़ रहा है। वह खुद इस सीट से चार बार चुनाव जीत चुके हैं। इसके अलावा उनकी पत्नी परनीत कौर भी यहीं से 2017 का चुनाव जीती थीं।  मालूम हो कि इसी साल अप्रैल में कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नवजोत सिंह सिद्धू को पटियाला से चुनाव लड़ने की चुनौती दी थी। उसके बाद से ही दोनों नेताओं के बीच रार बढ़ती चली गई और अंत में कैप्टन अमरिंदर सिंह को सीएम पद से ही इस्तीफा देना पड़ा। 

epaper

संबंधित खबरें