DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शाह के हेलीकॉप्टर की लैंडिग पर घमासान, भाजपा-टीएमसी के बीच तेज हुई जुबानी जंग

अमित शाह, ममता बनर्जी

भारतीय जनता पार्टी का आरोप है कि पश्चिम बंगाल सरकार पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के हेलीकॉप्टर को मालदा में मंगलवार को उतरने की अनुमति नहीं दे रही है। हालांकि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का कहना है कि ''यह बिल्कुल सच नहीं है। राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि इससे स्पष्ट है कि बनर्जी राज्य में पार्टी के बढ़ते प्रभाव से डर रही हैं।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ''इस फैसले में तृणमूल कांग्रेस और ममता बनर्जी का डर और बेचैनी साफ नजर आ रही है। राज्य सरकार अमित शाह के सभी कार्यक्रमों को में अडंगा डाल रही है, फिर चाहे वह कोई रैली हो, रथयात्रा हो या फिर उनका हेलीकॉप्टर उतरना। गोयल ने कांग्रेस जैसी विपक्षी पार्टियों से कहा कि आप इसपर टिप्पणी करें, क्योंकि अगर भाजपा सरकार ने किसी विपक्षी पार्टी के नेता के कार्यक्रम में खलल डाली होती तो उसपर ''असहिष्णुता का आरोप लगने लगता।

वहीं कोलकाता में राज्य भाजपा प्रमुख दिलीप घोष ने कहा, ''प्रशासन ने मालदा की हवाईपट्टी पर हेलीकॉप्टर उतारने की अनुमति नहीं दी है। उनका कहना है कि वहां निर्माण कार्य चल रहा है। जबकि मालदा हवाईपट्टी पर कोई निर्माण नहीं हो रहा है। इस आरोप से इंकार करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, ''हेलीकॉप्टर उतारने के लिए पुलिस ने अनुमति दी है। यह (आरोप) गलत है।

सिलीगुड़ी रवाना होने से पहले कोलकाता हवाईअड्डे पर बनर्जी ने कहा, ''वह तथ्यों को गलत तरीके से लोगों के सामने रख रहे हैं। यह बिलकुल सच नहीं है। मालदा में भाजपा के जिलाध्यक्ष संजीत मिश्रा ने कहा कि शाह बागडोगरा हवाईअड्डे से हेलीकॉप्टर से मालदा आएंगे। वह नारायणपुर आएंगे जहां उनके लिए अस्थाई हेलीपैड बनाया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हेलीकॉप्टर उतारने की जगह में बदलाव सिर्फ सुरक्षा के दृष्टिकोण से किया गया है। बनर्जी ने कहा, ''पुलिस के अनुरोध पर मेरे हेलीकॉप्टर उतरने की जगह भी बदल गई है। उन्होंने बैठकों/सभाओं के लिए अनुमति दी है क्योंकि हम लोकतंत्र में विश्वास रखते हैं। उन्होंने अलग-अलग जगहों के लिए अनुमति मांगी है और हमने दे दी है।

हाल ही में स्वाइन फ्लू से उबरे शाह मंगलवार को मालदा में एक रैली को संबोधित करेंगे। बुधवार को झारग्राम और बीरभूम में उनकी रैलियां होनी हैं। इस संबंध में संपर्क करने पर राज्य पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अनुमति नहीं मिलने संबंधी आरोप गलत हैं। हेलीपैड पर चल रहे निर्माण कार्य के कारण सुरक्षा को लेकर कुछ दिक्कतें थीं। प्रक्रिया जारी है और कोई आपत्ति नहीं की गई है।

कर्नाटक कांग्रेस विधायक मारपीट: जेएन गणेश पार्टी से निलंबित, FIR दर्ज

UP सरकार का तोहफा: अब इन लोगों को हर माह मिलेगी 500 रुपये पेंशन

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:War on Amit Shahs helicopter landing at west bengal BJP TMC hit each other