DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अमित शाह के रोडशो के दौरान हिंसा दुर्भाग्यपूर्ण : शिवसेना

शिवसेना नेता संजय राउत ने कोलकाता में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के रोडशो पर हमले को लेकर पश्चिम बंगाल सरकार पर बुधवार को निशाना साधा और घटना को देश के लोकतंत्र के लिए दुर्भाग्यपूर्ण बताया।

राज्यसभा सदस्य राउत ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि देश में कहीं भी प्रचार करने पर किसी पर कोई रोक नहीं हो सकती।

राउत ने सवाल किया कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बंगाल में नरेंद्र मोदी और अमित शाह को नहीं चाहतीं। क्या ममता को किसी ने गुजरात में प्रचार करने से रोका?

उन्होंने कहा कि जानेमाने दार्शनिक एवं बंगाल पुनर्जागरण के प्रमुख स्तंभ ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा खंडित किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। 

मंगलवार को कोलकाता की सड़कों पर शाह के रोडशो के दौरान भाजपा और तृणमूल कांग्रेस समर्थकों में झड़प हो गयी। भाजपा अध्यक्ष को इसमें कोई चोट नहीं आयी लेकिन उन्हें अपना रोडशो बीच में रोकना पड़ा था और पुलिस उन्हें सुरक्षित निकालकर ले गई थी।

राकांपा प्रमुख शरद पवार की टिप्पणी कि मोदी नीत अल्पसंख्यक सरकार लंबे समय नहीं चलेगी और उसके साथ वैसा ही होगा, जैसा 1996 में वाजपेयी सरकार के साथ हुआ था, राउत ने कहा कि 23 मई तक काफी अटकलें लगायी जाएंगी (जब लोकसभा चुनाव के परिणाम घोषित होंगे)।

राज्य में सूखे पर राउत ने कहा कि शिवसेना ने 18 जिलों में राहत कार्य शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि हम चारा शिविरों में मदद कर रहे हैं, जरुरतमंद व्यक्तियों को पानी के टैंकर मुहैया करा रहे हैं। यद्यपि उद्धव ठाकरे देश से बाहर हैं लेकिन वे सूखे की स्थिति पर प्रतिदिन जानकारी ले रहे हैं।

भाजपा सरकार आने पर देशद्रोह कानून को और सख्त करेंगेः राजनाथ सिंह

जो ऐतिहासिक सच था, बस वही कहा: कमल हासन

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Violence during Amit Shah Roadshow is unfortunate says Shiv Sena