ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशमुझे सड़क पर देख वह खुश होता है, गौतम सिंघानिया विवाद में पिता की एंट्री; गिनाए बेटे के गुनाह

मुझे सड़क पर देख वह खुश होता है, गौतम सिंघानिया विवाद में पिता की एंट्री; गिनाए बेटे के गुनाह

रेमंड कंपनी के मालिक गौतम सिंघानिया फिलहाल अपनी पत्नी के साथ संबंधों को लेकर चर्चा में हैं। अब उनके पिता विजयपत सिंघानिया ने एक इंटरव्यू में अपने बेटे के साथ संबंधों पर चर्चा की है।

मुझे सड़क पर देख वह खुश होता है, गौतम सिंघानिया विवाद में पिता की एंट्री; गिनाए बेटे के गुनाह
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSat, 25 Nov 2023 12:03 AM
ऐप पर पढ़ें

एक छोटी सी कंपनी से रेमंड को ग्लोबल ब्रांड बनाने वाले विजयपत सिंघानिया अपने बेटे गौतम सिंघानिया से खुश नहीं हैं। उन्होंने अपने बेटे पर कंपनी तोड़ने का आरोप लगाया है। बता दें मौजूदा वक्त में रेमंड के मालिक गौतम सिंघानिया फिलहाल अपनी पत्नी के साथ संबंधों को लेकर चर्चा में हैं। ऐसा बताया जा रहा है कि गौतम सिंघानिया और उनकी पत्नी नवाज मोदी अलग होने वाले हैं। अलग होने के बदले में नावज मोदी ने अपने पति से मोटी रकम मांगी है। इंडिया टुडे को दिए एक इंटरव्यू में विजयपत सिंघानिया ने अपनी कंपनी और बेटे साथ संबंधों को लेकर बात की है। हालांकि, इस दौरान विजयपत सिंघानिया ने स्पष्ट किया कि वह गौतम के फैसलों में हस्तक्षेप करने से बचते हैं।

विजयपत सिंघानिया ने कहा, "वह (गौतम सिंघानिया) रेमंड को तोड़ रहा है। जिससे मुझे दिल को काफी तकलीफ पहुंच रही है। लेकिन मैं हस्तक्षेप नहीं करता। मैं उसे नहीं बताता कि उसे क्या करना चाहिए। उसे जीना है। मैंने अपना जीवन जी लिया है, मेरे पास अब कुछ ही साल बचे हैं।" विजयपत सिंघानिया ने गौतम सिंघानिया और उनकी पत्नी नवाज मोदी के अलगाव के बारे में भी बात की। इंडिया टुडे के साथ खास बातचीत में विजयपत सिंघानिया ने कहा, "यह वर्णन करना मुश्किल है कि जब आप अपने परिवार को इस तरह के तनाव में जाते देखते हैं तो आप पर क्या गुजरती है। मैं केवल भगवान से प्रार्थना कर सकता हूं। वह इन मुद्दों को सुलझाने में मदद करें।''

विजयपत सिंघानिया ने खोला राज
विजयपत सिंघानिया 2015 में रेमंड के अध्यक्ष के रूप में पद छोड़ दिया था और कंपनी की बागडोर अपने बेटे गौतम सिंघानिया को सौंप दी थी। कुछ साल पहले बाप-बेटे में काफी असहमतियां देखी गई, जो अब पूरी तरह से सामने आ गई है। इंटरव्यू में विजयपत सिंघानिया ने कहा कि "मुझे सड़क पर देख गौतम को खुशी होती है।" उन्होंने कहा कि जो मेरे पास पैसे बचे हैं उनमें मैं अपनी जिंदगी जी रहा है। बता दें बाप-बेटे के बीच विवाद 2017 में तब सामने आया जब विजयपत सिंघानिया ने दावा किया कि रेमंड लिमिटेड ने दक्षिण मुंबई में स्थित बहुमंजिला इमारत जेके हाउस में डुप्लेक्स आने की अनुमति नहीं दी गई। उन्हें 2018 में रेमंड के मानद चेयरमैन पद से भी हटा दिया गया था।

पत्नी ने की डिमांड
गौतम सिंघानिया की निजी जिंदगी में कोहराम मचा है। 13 नवंबर को गौतम सिंघानिया ने ऐलान किया कि वह अपनी पत्नी नवाज मोदी से रिश्ते तोड़ रहे हैं। सोशल मीडिया पर गौतम ने नवाज के साथ 32 साल के रिश्ते को खत्म करने का ऐलान किया है। तलाक के एवज में नवाज मोदी सिंघानिया ने गौतम सिंघानिया की नेटवर्थ में से 75 प्रतिशत हिस्सा अपने दो बेटियों निहारिका और निशा के साथ-साथ खुद के लिए मांगा है। गौतम की कुल संपत्ति 1.1 बिलियन डॉलर (करीब 11 हजार करोड़ रुपये) है। यह बात इकनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट में कही गई है। बता दें, गौतम सिंघानिया ने सोशल मीडिया पर पत्नी से अलग होने की जानकारी साझा की थी।

डिमांड मानने के लिए तैयार हैं सिंघानिया!
इस पूरे मामले की जानकारी रखने वाले व्यक्ति के अनुसार गौतम सिंघानिया डिमांड को लगभग मानने के लिए तैयार हैं। हालांकि, उन्होंने एक फैमिली ट्रस्ट बनाने की सलाह दी है। इसी ट्रस्ट को परिवार की पूरी संपत्ति और पैसा ट्रांसफर करने का सुझाव दिया है, वो इस ट्रस्ट के एकमात्र ट्रस्टी होंगे। उनकी मौत के बाद उनके परिवार के सदस्यों को संपत्ति वसीयत के तौर पर मिलेगी। कहा जा रहा है कि यह प्रस्ताव नवाज मोदी सिंघानिया को पसंद नहीं है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें