DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्रत्यर्पण केस: वेस्टमिंस्टर की अदालत में पेश हुए विजय माल्या

vijay mallya

भारतीय शराब व्यवसायी विजय माल्या सोमवार को प्रत्यर्पण संबंधी मामले की सुनवाई के पहले दिन वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश हुए। 

फिलहाल माल्या 6,50,000 पौंड की जमानत पर बाहर हैं। धोखाधड़ी और धन शोधन के मामले में उन्हें स्कॉटलैंड यार्ड द्वारा गिरफ्तार किया गया था। 61 साल के माल्या भारत में वांछित हैं। अदालत पहुंचने पर फोटोग्राफरों, कैमरों और रिपोर्टरों से उनका सामना हुआ। अदालत के बाहर माल्या ने संवाददाताओं से कहा, मैं पूरे मामले में निर्दोष हूं। प्रत्यर्पण मामले की सुनवाई में पीठासीन न्यायाधीश एम्मा लुइस अर्बथनॉट हैं। यह सुनवाई 14 दिसंबर तक चलेगी।

माल्या खुद ही मार्च 2016 से भारत से बाहर ब्रिटेन में रह रहे हैं। उन पर उनकी बंद हो चुकी विमानन कंपनी किंगफिशर एयरलाइंस के कई भारतीय बैंकों का ऋण जानबूझकर नहीं चुकाने का आरोप है।  उन पर कुल 9,000 करोड़ रुपये का बकाया है।  

अलार्म बजने से अफरातफरी 
मामले की सुनवाई थोड़ी देर से शुरू हुई क्योंकि फायर अलार्म बजने से अदालत परिसर को पहले खाली कराया गया। अलार्म बजने से 30 मिनट तक अफरातफरी मची रही। 

सीबीआई, ईडी टीम लंदन में
विजय माल्या के प्रत्यर्पण के मुद्दे पर लंदन की अदालत में सोमवार को हो रही सुनवाई के लिए केंद्रीय जांच ब्यूरो और प्रवर्तन निदेशालय की एक संयुक्त टीम लंदन में है। सीबीआई और ईडी की टीम बैंकों का बड़ा कर्ज नहीं चुकाने और धोखाधड़ी और धनशोधन के मामले में माल्या को भारत लाना चाहती है। सीबीआई-ईडी की टीम माल्या के प्रत्यर्पण के लिए अपने वकीलों का सहयोग करेगी। यह ब्रिटेन के साथ प्रत्यर्पण का दूसरा मामला है। भारत और ब्रिटेन के बीच 25 साल पहले प्रत्यर्पण संधि पर हस्ताक्षर किए गए थे। सीबीआई के एक अधिकारी ने कहा कि उन्होंने माल्या पर 2,000 पृष्ठों का दस्तावेज जमा किया है। 

प्रत्यर्पण सुनवाई: माल्या बोले, मेरे पास बेगुनाही के पर्याप्त सबूत, फिर मिली जमानत

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Vijay Mallya extradition case: in UK court Mallya says- all charges false and fabricated