DA Image
19 अक्तूबर, 2020|12:29|IST

अगली स्टोरी

कृषि विधेयक का विरोध कर बुरी तरह फंसी कांग्रेस, बिल पर राहुल गांधी के साथ माकन का समर्थन वाला पुराना वीडियो वायरल

congress leader rahul gandhi and ajay maken  file pic

कृषि विधेयकों का जोरदार विरोध कर रही कांग्रेस आज खुद बुरी तरह फंसती दिख रही है। पहले कांग्रेस के निलंबित नेता और पूर्व प्रवक्ता संजय झा ने पार्टी को याद दिलाया कि आज कांग्रेस जिस विधेयक का विरोध कर रही है, वे साल 2019 के लोकसभा चुनाव में उसके चुनावी घोषणा पत्र में शामिल था तो वहीं कांग्रेस का 6 साल पहले का एक वीडियो भी खूब वायरल हो रहा है। कृषि विधेयक का विरोध कर रही कांग्रेस  खुद इस वीडियो में फल और सब्जी को एपीएमसी से बाहर निकालने की बात कर रही है। 

एपीएमसी का विरोध कर फंसी कांग्रेस

इस वीडियो में कांग्रेस नेता अजय माकन खुद राहुल गांधी के सामने एपीएमसी एक्ट में संशोधन की बात करते दिखाई दे रहे हैं। यह वीडियो 27 दिसंबर 2013 का है, जो कांग्रेस के ऑफिशियल यूट्ब चैनल पर मौजूद है और उसे यहां पर आपके लिए अटैच किया गया है। इसमें माकन एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राहुल गांधी के सामने घोषणा कर रहे हैं।

इसमें वह कह रहे हैं कि महंगाई और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने के लिए कांग्रेस के ग्यारह मुख्यमंत्रियों की बैठक में फैसला लिया गया कि किसानों को सहूलियत पहुंचाने और उपभोक्ताओं को कम कीमत में फल और सब्जियां उपलब्ध कराने के लिए इन्हें APMC ऐक्ट के तहत बनी लिस्ट से हटाया जाएगा। कृषि विधेयकों पर कांग्रेस के विरोध के बीच 2013 का कांग्रेस के ऑफिशल हैंडल से किया गया ट्वीट भी वायरल हो रहा है। इस ट्वीट में कांग्रेस ने लिखा है कि सभी कांग्रेस शासित राज्य APMC ऐक्ट से फल और सब्जियों को हटाएंगे। 

राहुल के साथ अजय माकन का समर्थन करने वाला वीडियो वायरल

इसमें काउंटर नंबर 3:16 से 7:05 तक यह साफ सुना जा सकता है कि इस वीडियो में अजय माकन खुद राहुल गांधी के सामने इस बात का ऐलान कर रहे हैं कि महंगाई और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने के लिए कांग्रेस के 11 मुख्यमंत्रियों की बैठक में फैसला लिया गया कि किसानों को सहूलियत पहुंचाने और उपभोक्ताओं को कम कीमत में फल और सब्जियां उपलब्ध कराने के लिए इन्हें एपीएमसी ऐक्ट के तहत बनी लिस्ट से हटा दिया जाएगा।

संजय झा ने ट्वीट कर दिलाई चुनावी घोषणा पत्र की याद

कांग्रेस के निलंबित नेता संजय झा ने शुक्रवार की दोपहर बाद ट्वीट करते हुए कहा कि कृषि संबंधी बिलों को लेकर कांग्रेस और बीजेपी में कोई अंतर नहीं है। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार वही कर रही थी जिसका कांग्रेस ने 2019 के लोकसभा चुनाव में वादा किया था। इससे पहले, संजय झा जिनको कांग्रेस ने जुलाई में पार्टी से निलंबित कर दिया था, उन्होंने कहा कि आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक, 2020 (तीन बिलों में से एक) यूपीए के इरादे के अनुरूप थे और कांग्रेस की तरफ से लाए गए मल्टी ब्रांड एफडीआई में इससे फायदा होगा।

संजय झा ने ट्वीट करते हुए कहा, साल 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने भी अपने घोषणापत्र में एपीएमसी अधिनियम को खत्म करने और कृषि उत्पादों को प्रतिबंधों से मुक्त करने की बात कही थी।' उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने जो वादा अपने घोषणापत्र में किया था, वही मोदी सरकार ने पूरा किया है। संजय झा ने कहा कि इस मुद्दे पर बीजेपी और कांग्रेस एकमत हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी शुक्रवार को कहा कि चुनाव के समय किसानों को लुभाने के लिए ये बड़ी-बड़ी बातें करते थे, लिखित में करते थे, अपने घोषणापत्र में डालते थे और चुनाव के बाद भूल जाते थे। और आज जब वही चीजें एनडीए सरकार कर रही है, किसानों को समर्पित हमारी सरकार कर रही है, तो ये भांति-भांति के भ्रम फैला रहे हैं।

पीएम मोदी ने आगे कहा- जिस APMC एक्ट को लेकर अब ये लोग राजनीति कर रहे हैं, कृषि बाजार के प्रावधानों में बदलाव का विरोध कर रहे हैं, उसी बदलाव की बात इन लोगों ने अपने चुनावी घोषणापत्र में भी लिखी थी लेकिन अब जब एनडीए सरकार ने ये बदलाव कर दिया है, तो ये लोग इसका विरोध करने पर उतर आए हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Video of Congress supporting APMC trapped badly opposing Agriculture Bill goes viral