DA Image
28 जनवरी, 2020|3:59|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

VHP का बड़ा बयान, राम मंदिर के ट्रस्ट में संघ प्रमुख भागवत को नहीं होना चाहिए

ayodhya ram temple

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए बनने जा रहे ट्रस्ट का अध्यक्ष संघ प्रमुख मोहन भागवत को बनाने की उठ रही मांगों पर विश्व हिंदू परिषद ने बड़ा बयान दिया है। संघ के प्रचारक रहे और मौजूदा समय विहिप के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय ने यहां पत्रकारों से बातचीत में ऐसी मांगों को खारिज करते हुए कहा कि ट्रस्ट में संघ प्रमुख मोहन भागवत को नहीं होना चाहिए। हालांकि उन्होंने पत्रकारों को इसको लेकर कोई कारण नहीं बताया।

बाद में विहिप के एक राष्ट्रीय पदाधिकारी ने आईएएनएस से कहा, “संघ के शीर्ष पदाधिकारी किसी ट्रस्ट का खुद हिस्सा बनने में विश्वास नहीं रखते। संघ में ऐसी परंपरा भी नहीं रही है। संघ प्रमुख के सामने अगर कोई प्रस्ताव रखेगा भी तो वह इन्कार कर देंगे।”

बता दें कि बीते दिनों महंत परमहंस महाराज ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए बनने वाले ट्रस्ट का अध्यक्ष बनाने की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि इसके लिए वह (महंत परमहंस) अनशन पर भी बैठ सकते हैं। 

ऐसे में विहिप के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जब नागपुर दौरे पर पहुंचे तो पत्रकारों ने इससे जुड़ा सवाल कर दिया। जिसके जवाब में उन्होंने कहा कि संघ प्रमुख मोहन भागवत को राम मंदिर ट्रस्ट का अध्यक्ष नहीं बनना चाहिए। विहिप के एक पदाधिकारी ने आईएएनएस से कहा, “संघ के प्रचारक या वरिष्ठ पदाधिकारी समाज के काम को समाज के लोगों के जरिए ही आगे बढ़ाने में विश्वास रखते हैं। खुद ट्रस्ट में पद लेना उन्हें उचित नहीं लगता।”

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:VHP Says Mohan Bhagwat should not be part of Ram Temple Trust in Ayodhya