DA Image
Saturday, November 27, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशCM हिमंत बिस्वा सरमा का कमाल, असम-मिजोरम सीमा पर 10 दिनों से फंसे वाहनों की आवाजाही बहाल

CM हिमंत बिस्वा सरमा का कमाल, असम-मिजोरम सीमा पर 10 दिनों से फंसे वाहनों की आवाजाही बहाल

बिस्वा कल्याण हिन्दुस्तान टाइम्स,सिलचरPriyanka
Sun, 08 Aug 2021 06:55 AM
CM हिमंत बिस्वा सरमा का कमाल, असम-मिजोरम सीमा पर 10 दिनों से फंसे वाहनों की आवाजाही बहाल

असम की तरफ बीते 10 दिनों से खड़े जरूरी समानों से लदे ट्रक आखिरकार मिजोरम की सीमा में प्रवेश करने लगे हैं। इसमें असम के दो मंत्रियों का विशेष योगदान रहा जिन्होंने स्थानीय लोगों को वाहनों की आवाजाही न रोकने के लिए मनाया। जुलाई माह में दोनों राज्यों के बीच हुई गोलीबारी और खूनी संघर्ष में 6 पुलिसकर्मियों की मौत के बाद से ही असम की ओर से सीमा पर अघोषित बंदी जारी थी। दोनों राज्यों के बीच कई दौर की वार्ता के बाद भी स्थिति सामान्य नहीं हो सकी थी। 

इसके बाद शनिवार शाम को कचार जिले के गार्जियन यानी संरक्षक मंत्री अशोक सिंघल और वन मंत्री परिमल सुक्लाबैद्य ने मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा के मार्गदर्शन में लैलापुर सीमा इलाके का दौरा किया और वहां ट्रांसपोर्टेशन को सामान्य करने की कोशिश की। 

हालांकि, कुछ वाहनों ने मंत्रियों के वहां पहुंचने से पहले ही जाने की कोशिशि की। स्थानीय लोगों के एक समूह ने गुस्से में कुछ वाहनों से तोड़फोड़ की जिससे वहां तनावपूर्ण स्थिति बन गई थी। लोगों ने वहां से जा रहे ट्रकों पर पत्थर फेंकने शुरू कर दिए, जिसकी वजह से कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। सुप्रीनटेंडेंट ऑफ पुलिस रमनदीप कौर धोलाई पुलिस थाने के प्रभारी शहाबुद्दीन के साथ भीड़ को शांत कराने पहुंची जहां बिना बल का प्रयोग किए लोगों को पत्थरबाजी रोकने के लिए मनाया गया। हालांकि, माहौल से डर चुके कई ड्राइवरों ने यू-टर्न लेते हुए वापस असम के सिलचर लौटना शुरू कर दिया था। 

स्थानीय लोगों ने कहा, 'हम असम पुलिस के 6 जवानों की मौत को इतनी आसानी से नहीं भूल सकते। हमने बहुत झेल लिया है और अब हमें स्थायी समाधान चाहिए। हमने दोनों ओर की सरकारों के ट्वीट देखे हैं जिनमें शांति की बात की जा रही है लेकिन हकीकत में कुछ नहीं बदला। मिजोरम ने असम की धरती से सुरक्षाबलों की वापसी नहीं की है। मिजोरम के उन पुलिसकर्मियों पर कोई एक्शन नहीं हुआ जिन्होंने हमारे जवानों को मारा। हम किसी के खिलाफ नहीं हैं लेकिन सिर्फ न्याय मांग रहे हैं।'

स्थिति सामान्य होने के बाद अशोक सिंघल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'मिजोरम में स्थिति को देखते हुए, सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने हमसे सीमा पर जाकर ट्रांसपोर्टेशन सामान्य करवाने को कहा। असम के लोग इसलिए गुस्सा और दुखी हैं क्योंकि मिजोरम पुलिस ने हमारे छह जवानों को मारा। लेकिन असम सीएम के फैसले का सम्मान करते हुए, स्थानीय लोगों ने वाहनों की आवाजाही को मंजूरी दे दी।' मंत्री ने मिजोरम सरकार से उन पुलिस कर्मियों पर भी सख्त एक्शन लेने को कहा जो पुलिस जवानों की मौत के जिम्मेदार हैं।

इस बीच वाहनों की आवाजाही चालू होने के बाद असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने अशोक सिंघल और परिमल सुक्लाबैद्य के साथ ही राज्य के नागरिकों का शुक्रिया कहा।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें