ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशVande Bharat: जिसका था इंतजार, आखिर वो समय आ ही गया; वंदे भारत को लेकर आई खुशखबरी; जानें डिटेल्स

Vande Bharat: जिसका था इंतजार, आखिर वो समय आ ही गया; वंदे भारत को लेकर आई खुशखबरी; जानें डिटेल्स

Vande Bharat: भारतीय रेलवे के लाखों यात्रियों के लिए अब गुड न्यूज मिल गई है। मुंबई से अहमदाबाद के बीच मार्च से वंदे भारत ट्रेन की टॉप स्पीड 160 किलोमीटर होगी।

Vande Bharat: जिसका था इंतजार, आखिर वो समय आ ही गया; वंदे भारत को लेकर आई खुशखबरी; जानें डिटेल्स
Madan Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 18 Feb 2024 10:19 PM
ऐप पर पढ़ें

Vande Bharat: भारतीय रेलवे के यात्रियों के लिए बड़ी खुशखबरी है। जिसका इंतजार हो रहा था, वह समय बस आ ही गया है। वंदे भारत को लेकर सवाल उठ रहे थे कि आखिर कब यह ट्रेन लगातार 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेगी? अब यात्रियों को गुड न्यूज मिल गई है। 'टाइम्स ऑफ इंडिया' के अनुसार,  मुंबई से अहमदाबाद के बीच मार्च से वंदे भारत ट्रेन की स्पीड 160 किलोमीटर होगी। गति को बढ़ाने के लिए इस रूट पर वेस्टर्न रेलवे ने कार्यों को लगभग पूरा कर लिया है । सिर्फ वंदे भारत ही नहीं, बल्कि शताब्दी को भी इस रूट पर 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ाने की तैयारी हो रही है।

साल 2019 में केंद्र सरकार ने पहली वंदे भारत ट्रेन को लॉन्च किया था, जोकि नई दिल्ली से वाराणसी के बीच शुरू की गई थी। इसके बाद समय-समय पर अन्य रूटों पर वंदे भारत ट्रेनें शुरू की गईं। अब 40 से ज्यादा रूट्स पर वंदे भारत ट्रेनें इस समय चल रही हैं। आने वाले समय में और कई राज्यों को नई वंदे भारत मिलने की संभावनाएं हैं। मुंबई से अहमदाबाद के बीच वंदे भारत ट्रेन के 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ने से यात्रियों को दोनों शहरों के बीच लगने वाला समय भी आधे घंटे कम हो जाएगा। कहा जा रहा है कि मिशन रफ्तार के तहत मालगाड़ी, मेल, सुपरफास्ट और एक्सप्रेस ट्रेनों की स्पीड को कम से कम 25 किलोमीटर प्रति घंटे बढ़ाने पर काम चल रहा है।

बता दें कि उत्तराखंड के देहरादून से नई दिल्ली तक जाने वाली वंदे भारत को लेकर एक बड़ा अपडेट आया है। अब यह ट्रेन बुधवार को भी दिल्ली के लिए चलेगी। पहले इस दिन ट्रेन नहीं चलती थी, जिसकी वजह से लंबे समय से मांग की जा रही थी। अब राज्यसभा सांसद कल्पना सैनी ने जानकारी दी है कि रेल मंत्रालय ने प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है और अब यह ट्रेन बुधवार को भी चलेगी। हालांकि, हफ्ते में किसी एक दिन ट्रेन का संचालन रोका जा सकता है। इस ट्रेन को पिछले साल पीएम मोदी ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया था। उत्तराखंड से दिल्ली के बीच चलने की वजह से न सिर्फ पर्यटकों के लिए सुविधा हुई है, बल्कि विभिन्न तरह के कारोबार को भी ट्रेन की वजह से फायदा हुआ है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें