ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशबाबरी मस्जिद का नाम लेकर दिखाओ, असदुद्दीन ओवैसी की कांग्रेस और एनसीपी को चुनौती

बाबरी मस्जिद का नाम लेकर दिखाओ, असदुद्दीन ओवैसी की कांग्रेस और एनसीपी को चुनौती

Asaduddin Owaisi News: ओवैसी ने आरएसएस पर निशाना साधते हुए कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज 'मुस्लिम विरोधी' नहीं थे लेकिन संघ उन्हें 'इस्लाम विरोधी' के रूप में चित्रित करने की कोशिश करता है।

बाबरी मस्जिद का नाम लेकर दिखाओ, असदुद्दीन ओवैसी की कांग्रेस और एनसीपी को चुनौती
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईTue, 20 Feb 2024 08:56 AM
ऐप पर पढ़ें

AIMIM यानी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर बाबरी मस्जिद का मुद्दा उठा दिया। सोमवार को उन्होंने महाराष्ट्र में कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) को बाबरी मस्जिद का नाम लेने की चुनौती दे दी। उन्होंने मुसलमानों से '6 दिसंबर 1992 को नहीं भूलने' की अपील की है।

ओवैसी ने कहा, 'ये कांग्रेस के, एनसीपी के और जितने सेक्युलर लोग हैं जब आपके पास आएं तो उनसे एक ही सवाल पूछो क्या तुम अपनी जबान से बाबरी मस्जिद बोल सकते या नहीं बोल सकते?' उन्होंने आगे कहा, 'मुसलमानों को कभी भी 6 दिसंबर 1992 नहीं भूलना चाहिए। उन्हें दिमाग में रखना चाहिए कि बाबरी मस्जिद है और रहेगी, नहीं तो एक और 6 दिसंबर ना हो जाए।'

AIMIM चीफ ने कहा कि मुसलमानों को बाबरी को उसी तरह याद रखना चाहिए जैसे यहूदी, नरसंहार को याद रखे हुए हैं। ओवैसी ने आरएसएस पर निशाना साधते हुए कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज 'मुस्लिम विरोधी' नहीं थे लेकिन संघ उन्हें 'इस्लाम विरोधी' के रूप में चित्रित करने की कोशिश करता है।

इस दौरान ओवैसी ने महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण के भारतीय जनता पार्टी में जाने और कमलनाथ के कांग्रेस छोड़ने की अटकलों का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा, 'अशोक चव्हाण ने भाजपा में शामिल होने के लिए कांग्रेस छोड़ दी। मैंने सुना है कि कमलनाथ भी ऐसा कर सकते हैं। एआईएमआईएम को एक समय भाजपा की बी टीम कहा जाता था। अब मुझे बताएं कि आरएसएस की असली टीम कौन है? भाजपा की असली टीम कौन है?'

हाल ही में चव्हाण को भाजपा ने राज्यसभा का टिकट दिया है। इस दौरान उन्होंने उपमुख्यमंत्री अजित पवार की पत्नी सुनेत्रा के चुनाव लड़ने की अटकलों पर भी बात की। उन्होंने कहा, 'मैंने सुना है कि वह (अजित पवार) अपनी पत्नी को बहन (सुप्रिया सुले) के खिलाफ मैदान में उतार रहे हैं। महाराष्ट्र की राजनीति में क्या हो रहा है?'

(एजेंसी इनपुट के साथ)

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें