DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लोकसभा चुनाव से पहले 4 लाख आंगनबाड़ी कार्यकर्त्रियों को मिल सकता है ये 'तोहफा'

आंगनबाड़ी कार्यकर्त्रियों (फोटो: एचटी)

2019 के लोकसभा चुनावों को देखते हुए आंगनबाड़ी कार्यकर्त्रियों को अपने पक्ष में रिझाने के लिए केन्द्र सरकार की तरह राज्य सरकार भी उनका मानदेय बढ़ाने जा रही है। सरकार के इस फैसले से प्रदेश में करीब चार लाख आंगनबाड़ी कार्यकर्त्रियों को राहत मिलेगी।

यह संकेत शुक्रवार की रात मुख्यमंत्री आवास पर सरकार और संगठन के बीच हुई समन्वय बैठक मिले हैं। इसके अलावा यह भी तय किया गया है कि सभी मंत्रियों को लोकसभा क्षेत्रों में चुनाव संचालन की जिम्मेदारी दी जाएगी। संगठन से मिली जिम्मेदारी का ये सभी मंत्री अपने सरकारी कामकाज के अलावा निर्वहन करेंगे। 

भाजपा ने विधानसभा चुनाव के अपने चुनावी घोषणा पत्र में आंगनबाड़ी कार्यकर्त्रियों का मानदेय बढ़ाने का वादा किया था। इसके बाद से ही संगठन कार्यकर्त्रियों का मानदेय बढ़ाने पर लगातार जोर दे रहा था। भाजपा के प्रदेश नेतृत्व से भी कार्यकर्त्रियों के विभिन्न संगठन मिलकर उन्हें चुनावी वादे की याद दिला रहे थे। केन्द्र सरकार के मानदेय बढ़ाने के बाद से ही प्रदेश सरकार की ओर अपने हिस्से में आने वाले मानदेय को बढ़ाने की संभावना व्यक्त की जा रही थी।

भाजपा के कार्यक्रमों पर चर्चा 
बैठक में पार्टी के आगामी कार्यक्रमों 10 से 15 नवम्बर तक बूथ कार्यकर्ता सम्मान समारोह, 17 नवम्बर को बाइक यात्रा में मंत्रिमंडल के सभी सदस्यों और संगठन के सभी पदाधिकारियों को जिम्मेदारी देने पर भी चर्चा हुई। बूथ कार्यकर्ता सम्मान समारोह में सभी एक लाख 62 हजार बूथ समितियों के अभिनन्दन में कार्यकर्ता, विधायक और सांसद भी लगेंगे। बैठक में 17 नवम्बर को कमल संदेश यात्रा में सरकार और पार्टी के प्रतिनिधियों को भी लगाने पर विचार किया गया। इसके तहत हर लोकसभा क्षेत्र में बाइक सवार केन्द्र व प्रदेश सरकार के साथ भाजपा के सबसे बड़ी पार्टी होने का संदेश लेकर जाएंगे। हर बूथ पर पांच यानि हर विधानसभा क्षेत्र में करीब 350 बाइक सवार लोकसभा क्षेत्र के अलग-अलग हिस्सों में 8-10 किलोमीटर बाइक चलाएंगे। पार्टी के प्रदेश नेतृत्व ने 15 दिसम्बर को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर कार्यकर्ताओं की लोकसभा क्षेत्र में पदयात्रा के कार्यक्रम को भी सरकार के सामने रखा। इसके अलावा आयोग और निगमों के नामित पदों पर पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ताओं को समायोजित करने पर भी विचार किया गया। 

पीएम के वाराणसी दौरे की तैयारी 
12 नवम्बर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के वाराणसी दौरे की तैयारियों पर और अयोध्या में दीपोत्सव के आयोजन की सफलता पर भी चर्चा हुई। मौजूदा सांसदों के रिपोर्ट कार्ड बनाने की जिम्मेदारी उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को सौंपी गई है। संगठन की ओर से उपमुख्यमंत्री को मिली इस जिम्मेदारी से भी मुख्यमंत्री को अवगत कराया जाएगा। साथ ही इस काम को करने के लिए श्री मौर्य के जिलों के दौरे की रूपरेखा भी तैयार की जाएगी। इस बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ, संगठन के राष्ट्रीय महासचिव भूपेन्द्र यादव, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा.महेन्द्र नाथ पाण्डेय, दोनों उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डा.दिनेश शर्मा आदि शामिल थे।
 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Uttar Pradesh Government may increase the wages of four lakh Anganwadi workers before 2019 loksabha election