ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशनीरज चोपड़ा, विक्रम बत्रा के साथ गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का नाम; DAV कॉलेज की एलुमनी लिस्ट पर मचा बवाल

नीरज चोपड़ा, विक्रम बत्रा के साथ गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का नाम; DAV कॉलेज की एलुमनी लिस्ट पर मचा बवाल

डीएवी कॉलेज के पूर्व छात्रों की लिस्ट मुख्य पेज पर दिखाई जा रही है। इसमें पहले नंबर पर स्टार एथलीट नीरज चोपड़ा, दूसरे नंबर पर कारगिल के हीरो विक्रम बत्रा और तीसरे नंबर पर लॉरेंस का नाम था।

नीरज चोपड़ा, विक्रम बत्रा के साथ गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का नाम; DAV कॉलेज की एलुमनी लिस्ट पर मचा बवाल
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,चंडीगढ़Fri, 08 Dec 2023 12:27 AM
ऐप पर पढ़ें

चंडीगढ़ के डीएवी कॉलेज की पूर्व उल्लेखनीय छात्रों (डिस्टिंग्विश्ड एलुमनी) की लिस्ट में गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का नाम शामिल है। गूगल सर्च के दौरान मुख्य पेज पर ये लिस्ट दिखाई दे रही है। इस लिस्ट में लॉरेंस बिश्नोई का नाम दिख रहा है। इस लिस्ट से बवाल मच गया है और कॉलेज प्रशासन बुरी तरह से घिर गया है। पंजाब के नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) के नेता इसरप्रीत सिंह ने इस लिस्ट को ट्वीट करते हुए कहा है कि लॉरेंस बिश्नोई जैसे गैंगस्टर का नाम कॉलेज की एलुमनी लिस्ट में आना यूथ पर गलत प्रभाव डालेगा। मामले के तूल पकड़ने के बाद कॉलेज प्रशासन ने कहा कि उन्होंने लॉरेंस का नाम इस लिस्ट में नहीं डाला। हम कार्रवाई करेंगे और पुलिस को भी शिकायत दी जाएगी। 

नीरज चोपड़ा, विक्रम बत्रा के बाद तीसरे नंबर पर लॉरेंस का नाम था

चंडीगढ़ के सेक्टर-10 के डीएवी कॉलेज के पूर्व छात्रों की लिस्ट मुख्य पेज पर दिखाई जा रही है। इसमें पहले नंबर पर स्टार एथलीट नीरज चोपड़ा, दूसरे नंबर पर कारगिल के हीरो विक्रम बत्रा और तीसरे नंबर पर लॉरेंस का नाम था। बवाल मचने के बाद कॉलेज प्रशासन ने यहां से लारेंस बिश्नोई का नाम हटा दिया गया है। इस लिस्ट में कॉलेज के कई पूर्व छात्र क्रिकेटर युवराज सिंह, कपिल देव, दिनेश मोंगिया, एक्टर आयुष्मान खुराना के अलावा कई दिग्गज पॉलिटिशियन और जज भी शामिल हैं।

डीएवी कॉलेज चंडीगढ़ में पढ़ा है लॉरेंस बिश्नोई 

लॉरेंस बिश्नोई चंडीगढ़ में अपनी पढ़ाई के दौरान साल 2011 से 2012 तक पंजाब यूनिवर्सिटी के छात्र संगठन सोपू का अध्यक्ष भी रहा है। 2009 में कॉलेज में पढ़ाई के दौरान बिश्नोई पंजाब यूनिवर्सिटी के छात्र संगठन से जुड़ा और उनकी मुलाकात अध्यक्ष गोल्डी बराड़ से हुई। गोल्डी से मिलने और छात्र राजनीति में आने के बाद बिश्नोई ने अपराध करना शुरू कर दिया था।

रिपोर्ट: मोनी देवी

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें