ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशअटलसेतु पर नहीं कोई दरार, यह तो एप्रोच रोड है; कांग्रेस के आरोपों पर फडणवीस का पलटवार

अटलसेतु पर नहीं कोई दरार, यह तो एप्रोच रोड है; कांग्रेस के आरोपों पर फडणवीस का पलटवार

कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष नाना पटोले ने शुक्रवार को कहा कि उद्घाटन के कुछ महीनों के अंदर ही अटल सेतु में इसमें दरारें आ गईं, जिससे लोगों की जान को खतरा पैदा हो गया है।

अटलसेतु पर नहीं कोई दरार, यह तो एप्रोच रोड है; कांग्रेस के आरोपों पर फडणवीस का पलटवार
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईFri, 21 Jun 2024 11:37 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष नाना पटोले ने शुक्रवार को दक्षिण मुंबई को नवी मुंबई से जोड़ने वाले अटल सेतु समुद्री पुल के निर्माण में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया और कहा कि उद्घाटन के कुछ महीनों के अंदर ही इसमें दरारें आ गईं, जिससे लोगों की जान को खतरा पैदा हो गया है। हालांकि अब महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने कांग्रेस के आरोपों को झूठा बताया है। 

फडणवीस ने ट्वीट करते हुए लिखा, "अटलसेतु पर तो कोई दरार नहीं, ना ही अटलसेतु को कोई खतरा है। ये तस्वीर एप्रोच रोड की हैं। लेकिन एक बात साफ है कि कांग्रेस पार्टी ने झूठ के सहारे ‘दरार’ का एक लम्बा प्लान बना लिया हैं। चुनाव में संविधान बदलने की बाते, चुनाव के बाद फोन से ईवीएम अनलॉक और अब ऐसी झूठी बातें... देश की जनता ही इस ‘दरार’ प्लान और कांग्रेस की भ्रष्ट आचरण को परास्त करेगी... #AtalSetu #अटलसेतु

इससे पहले नाना पटोले ने दिन में पुल का निरीक्षण किया और दावा किया कि पुल के निर्माण की गुणवत्ता खराब है और सड़क का एक हिस्सा एक फुट तक धंस गया है। हालांकि, सत्तारूढ़ भाजपा और इस परियोजना के लिए नोडल एजेंसी मुंबई महानगर क्षेत्र विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) ने कहा कि दरारें पुल पर नहीं, बल्कि नवी मुंबई में उल्वे से आने वाले मार्ग पर हैं।

'अटल सेतु' को मुंबई ट्रांस-हार्बर लिंक (एमटीएचएल) के नाम से भी जाना जाता है। दक्षिण मुंबई को नवी मुंबई से जोड़ने वाले इस सेतु का उद्घाटन इस साल जनवरी में हुआ था। 17,840 करोड़ रुपये की लागत से बना यह छह लेन का पुल 21.8 किलोमीटर लंबा है और इसमें 16.5 किलोमीटर लंबा समुद्री-लिंक भी है।

पटोले ने पत्रकारों से बात करते हुए आरोप लगाया कि राज्य सरकार ने भ्रष्टाचार की सभी सीमाएं पार कर दी हैं और लोगों की जान जोखिम में डाल दी है। उन्होंने कहा, "उद्घाटन के तीन महीने के अंदर ही अटल सेतु पुल के एक हिस्से में दरारें आ गईं और नवी मुंबई के पास सड़क का आधा किलोमीटर लंबा हिस्सा एक फुट तक धंस गया। राज्य ने एमटीएचएल के लिए 18,000 करोड़ रुपये खर्च किए हैं।”

कांग्रेस नेता के आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा ने कहा कि जो दरारें दिख रही हैं, वे अटल सेतु पर नहीं बल्कि पुल तक जाने वाली सड़क पर हैं। भाजपा ने कहा कि तत्काल मरम्मत कार्य शुरू किया जा चुका है और अटल सेतु की छवि खराब करने की कोशिशें बंद होनी चाहिए। एमएमआरडीए ने एक बयान जारी कर कहा, “एमटीएचएल पुल पर दरारों के बारे में अफवाहें फैल रही हैं। हम स्पष्ट करना चाहते हैं कि ये दरारें पुल पर नहीं हैं, बल्कि एमटीएचएल को उल्वे से मुंबई की ओर जोड़ने वाली सड़क पर हैं।”

(इनपुट एजेंसी)