DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी की जनसभा में बोले अमित शाह, हिन्दू कभी आतंकवादी हो सकता है क्या?

amit shah in nagina  photo ani

उत्तर प्रदेश के धामपुर नगीना में एक जनसभा को संबोधित करते हुए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस और सपा-गठबंधन पर जमकर निशाना साधा और केन्द्र और राज्य की बीजेपी सरकार की उपलब्धियां के बारे में लोगों को बताया। अमित शाह ने कहा कि सपा-बसपा वाले हमें गन्ना भुगतान पर सलाह दे रहे हैं, जिन्होंने 2011 से 2015 तक गन्ने का भुगतान नहीं किया था। योगी सरकार ने 2017 तक का 57 हजार करोड़ का भुगतान कर दिया है और इस साल का भी पूरा गन्ना का भुगतान चुनाव होने से पहले किसानों के खातों में पहुंच जायेगा। 

शाह ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस ने पूरी दुनिया में विश्व बंधुत्व का भाव बढ़ाने वाले हिन्दू समुदाय को आतंकवाद के साथ जोड़कर बदनाम करने का काम किया। हिन्दू कभी आतंकवादी हो सकता है क्या? शायद राहुल गांधी को नहीं पता कि हम तो चीटियों को भी आटा खिलने वाले लोग हैं, लोगों को कैसे मारेंगे।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने हिन्दू समुदाय पर आतंकवाद का टैग लगाया। लेकिन सत्य को आप छुपा नहीं सकते। सूर्य को कितने भी बादलों में छिपा दो लेकिन सत्य और सूर्य तेजस्वी होकर हमेशा चमकते हैं। आज इस जजमेंट ने साबित कर दिया हैं कि स्वामी असीमानंद और बाकी सभी लोग निर्दोष है। उस वक़्त के गृहमंत्री को स्वयं अमेरिकी राजदूत से बोले थे कि लश्कर-ए-तैयबा खतरा नहीं है बल्कि हिन्दू आतंकवाद खतरा है। हिन्दुओं को बदनाम करने के लिए राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी को देश से मांफी मांगनी चाहिए। 

केरल की वायनाड लोकसभा सीट से भी चुनाव लड़ेंगें राहुल गांधी

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आतंकवाद को धर्म के साथ जोड़ने का पाप कांग्रेस ने किया। अपनी वोटबैंक की पॉलिटिक्स के लिए पूरी दुनिया में गौरवशाली हिन्दू समुदाय को बदनाम करने का पाप इन्होंने किया है। विपक्ष के लोग तुष्टिकरण कि राजनीति करने से बाज नहीं आते, अभी कुछ दिन पहले पंचकूला की एक कोर्ट 2007 में समझौता एक्सप्रेस में हुए ब्लास्ट पर फैसला दिया। उस समय की कांग्रेस सरकार ने कहा था कि समझौता एक्सप्रेस बलास्ट हिन्दू आतंकवाद का नमूना है। 

उन्होंने कहा कि नगीना वालों ने तो मोदी-मोदी के नारे लगाकर अपनी इच्छा बता दी कि मोदी जी ही देश के प्रधानमंत्री बनने चाहिए। लेकिन ये गठबंधन वाले किसे प्रधानमंत्री बनाएंगे? इनकी न कोई नीति हैं और न कोई रीति, ये तो केवल मोदी जी के डर से एक हुए हैं। आज मैं यहां जो माहौल देख रहा हूं। पूरे देश में इसी प्रकार का माहौल दिखाई दे रहा है। 

भीम आर्मी चीफ के वाराणसी से चुनाव लड़ने पर मायावती ने दिया ये बयान

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UP public meeting Amit Shah says can a Hindu be a terrorist ever