DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  राम भक्तों पर गोली चलवाने वाले, उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई का मुझसे मांग रहे हैं जवाब : योगी आदित्यनाथ

देशराम भक्तों पर गोली चलवाने वाले, उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई का मुझसे मांग रहे हैं जवाब : योगी आदित्यनाथ

टीम लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीPublished By: Himanshu
Wed, 19 Feb 2020 03:46 PM
राम भक्तों पर गोली चलवाने वाले, उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई का मुझसे मांग रहे हैं जवाब : योगी आदित्यनाथ

आज यानी 19 फरवरी को उत्तर प्रदेश विधानसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कारसेवकों पर गोली चलाने वाली घटना का जिक्र करते हुए मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी (सपा) पर जमकर भड़ास निकाली। नागरिकता कानून (CAA) के खिलाफ राज्य के विभिन्न हिस्सों में हुए विरोध के दौरान उपद्रव मचाने वालों के खिलाफ कार्रवाई को सही ठहराते हुए सपा को कठघरे में खड़ा कर दिया।

उन्होंने दो नवंबर 1990 को अयोध्या में लाखों कारसेवकों की भीड़ को तितर-बितर करने के लिए चलाई गई गोलीबारी की घटना की याद को ताजा करते हुए सपा को जमकर घेरा।

योगी आदित्यनाथ ने अपने संबोधन के दौरान कहा, 'जिन लोगों ने अयोध्या में रामभक्तों पर गोली चलाकर अयोध्या की मान्यता को दूषित करने का प्रयास किया था, वे आज उपद्रवियों के खिलाफ होने वाली कार्रवाई पर जवाब मांगे रहे हैं।'

CAA के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान उपद्रव करने वालों के खिलाफ कार्रवाई
नागरिकता कानून को लेकर उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में जमकर विरोध प्रदर्शन हुआ। इस दौरान कई जगह सार्वजनिक संपत्तियों को भी नुकसान पहुंचाई गई। योगी सरकार ने उपद्रवियों को चिह्नित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की पहल की। कई लोगों को नोटिस भेज गए और नुकसान की भरपाई करने के लिए कहा गया।

क्या थी घटना?
अयोध्या में 2 नवंबर 1990 को श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन लाखों कार सेवकों की भीड़ एकत्र थी। उसे तितर-बितर करने के लिए उत्तर प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने गोली चलाने के आदेश दिए थे। हालांकि बाद में मुलायम सिंह यादव ने अफसोस जताते हुए कहा था कि देश की एकता के लिए गोली चलाने का आदेश देना पड़ा था। इसके लिए उन्हें अफसोस है, लेकिन उनके समक्ष और कोई विकल्प नहीं था।

संबंधित खबरें