DA Image
24 फरवरी, 2020|4:26|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उन्नाव रेप पीड़िता की मौत पर पहली कार्रवाई, बिहार इंस्पेक्टर समेत 7 पुलिसवालों पर गिरी गाज

unnao rape case

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता की मौत के मामले में पहली कार्रवाई सामने आई है। गैंगरेप पीड़िता की मौत के मामले में आखिरकार एसपी विक्रांत वीर ने रविवार की देर शाम बिहार इंस्पेक्टर पर कार्रवाई कर दी है। एसपी ने बिहार थाना प्रभारी अजय त्रिपाठी समेत दो दरोगाओं व चार सिपाहियों को निलंबित कर दिया है। बता दें कि कुछ दिन पहले पीड़िता का गैंगरेप किया गया था और उसे आग के हवाले कर दिया गया था, जिससे दिल्ली में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। 

एसपी ने सर्विलांस व स्वॉट टीम प्रभारी विकास पांडेय को बिहार थाने की कमान सौंपी है। उधर, अनावरण एवं विवेचना शाखा में तैनात निरीक्षक राजेंद्र सिंह को सर्विलांस व स्वॉट टीम का प्रभारी बनाया है। जबकि हलका इंचार्ज अरविन्द सिंह रघुवंशी, एसआई श्रीराम तिवारी व बीट आरक्षी पंकज यादव, मनोज और संदीप कुमार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। उधर, कार्रवाई के बाद थाने में तैनात पुलिस कर्मियों में खलबली मची हुई है।

बता दें कि उन्नाव जिले के बिहार थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली बलात्कार पीड़िता को गुरुवार तड़के रेलवे स्टेशन जाते वक्त रास्ते में पांच लोगों ने आग के हवाले कर दिया था। आरोपियों में से दो के खिलाफ पीड़िता ने बलात्कार का मामला दर्ज कराया था। करीब 90 प्रतिशत तक झुलस चुकी युवती को एअरलिफ्ट कराकर दिल्ली के अस्पताल में भर्ती कराया गया था जहां शुक्रवार देर रात उसकी मौत हो गई।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Unnao rape case 7 Policemen Suspended including Bihar Inspector as action bigins in Unnao gang rape case