DA Image
20 जनवरी, 2020|8:48|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Unnao Gangrape Case: घर पहुंचा उन्नाव रेप पीड़िता का शव, भारी संख्या में फोर्स की तैनाती, अंतिम संस्कार पर सस्पेंस कायम

   unnao gangrape

1 / 2 Unnao Gangrape

unnao mortal remains of unnao rape victim

2 / 2Unnao Mortal remains of Unnao rape victim

PreviousNext

दुष्कर्म के आरोपियों समेत पांच लोगों द्वारा जलाए जाने के बाद गंभीर हालत में एयरलिफ्ट कर दिल्ली के अस्पताल में भर्ती कराई गई उन्नाव बलात्कार पीड़िता की उपचार के दौरान मौत के बाद शनिवार रात शव उसके गांव लाया गया।  पीड़िता की दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में शुक्रवार रात मौत हो गई थी। बृहस्पतिवार रात पीड़िता को बेहतर इलाज के लिए विमान से दिल्ली ले जाया गया था। बता दें कि शव पहुंचने के साथ ही इलाके में गहमागहमी बढ़ गई है। किसी अप्रिय घटना को रोकने के मद्देनजर पुलिस की बड़ी संख्या में तैनाती की गई है।

दिल्ली से पीड़िता का शव रात्र 9.10 बजे उन्नाव स्थित उसके गांव पहुंचा। शव पहुंचते ही गांव में कोहराम मच गया। भारी भीड़ के बीच फफकते हुए पीड़िता के भाई औऱ परिजनों ने जैसे ही एंबुलेंस से शव बाहर निकाला चीत्कार मच गई। परिजनों में भारी गम और गुस्से को देखते हुए पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद रहा। पीड़िता के अंतिम संस्कार के लिए प्रशासन परिवार से बात करेगा उसके बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा। उधर, क्षेत्र में चर्चा है कि सूर्यास्त के बाद गांव में कभी किसी का अंतिम संस्कार नहीं किया गया है, इसलिए उन्नाव की बेटी की विधि-विधान से अंतिम क्रिया करेंगे।

मृतका के परिवार को जब उसका शव सौंपा गया, तो मौके पर सपा के एमएलसी सुनील साजन, पूर्व विधायक उदय राज यादव और पार्टी के जिला अध्यक्ष धर्मेंद यादव सहित अन्य नेता मौजूद थे। किसी अप्रिय घटना को रोकने के लिए भारी संख्या में पुलिसकर्मी तैनात थे। दमकल की गाड़ियां भी मौके पर मौजूद थी। गांव में वरिष्ठ अधिकारी सुबह से ही डेरा डाले हुए थे।

जिलाधिकारी देवेन्‍द्र पाण्‍डेय ने कहा कि विभिन्‍न पार्टियों के प्रतिनिधि आये। सभी ने संवेदनाएं व्‍यक्‍त की है। मुख्‍यमंत्री ने दो मंत्रियो को भेजा हुआ है। वह यहां उपस्थित है जो अंतिम संस्‍कार तक यहां रहेंगे। मुख्‍यमंत्री ने 25 लाख रूपए की अनुग्रह राशि प्रेषित किया है जिसे मंत्रियो ने पीडिता के पिता को उपलब्‍ध कराई है। 
     
उन्नाव सामूहिक बलात्कार पीड़िता की दुखद मौत से पूरे देश में आक्रोश उत्पन्न हो गया है और इसके खिलाफ शनिवार को देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन हुए। पीड़िता के परिवार ने मांग की कि आरोपियों को हैदराबाद घटना की तरह ''दौड़ा कर मार दिया जाए जबकि विपक्षी दलों ने उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार पर यौन उत्पीड़न पीड़िताओं को सुरक्षा मुहैया कराने में असफल रहने का आरोप लगाया। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शोक संतप्त परिवार को त्वरित न्याय का भरोसा दिया। उन्होंने कहा कि एक त्वरित सुनवायी अदालत मामले पर सुनवायी करेगी और सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बाद में परिवार के लिए 25 लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की।

जिंदगी की जंग हार चुकी पीड़िता के पिता और भाई ने कहा कि जिसने उनकी बेटी को इस हालत में पहुंचाया है, उसे हैदराबाद मामले की तरह ही दौड़ा कर गोली मार देनी चाहिये या फिर तत्‍काल फांसी दी जानी चाहिये। पीड़िता के पिता ने उन्नाव स्थित अपने घर पर कहा, ''मुझे रुपया-पैसा-मकान कुछ नहीं चाहिये। मुझे इसका लालच नहीं है, बस जिसने मेरी बेटी को इस हालत में पहुंचाया है, उसे हैदराबाद मामले की तरह ही दौड़ा कर गोली मार देनी चाहिये या फिर तत्‍काल फांसी दी जानी चाहिये।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Unnao Gangrape Case Unnao Rape victim body reaches her village in Unnao