DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूनाइटेड इंडिया रैली: कोलकाता में 42 साल बाद दिखा ऐसा जमावड़ा

mamata banerjee united india railly

कोलकाता के ब्रिगेड मैदान में 42 साल बाद विपक्षी दलों का इतना बड़ा जमावड़ा शनिवार को लगा। साल 1977 में ज्योति बसु ने यहीं से कांग्रेस के खिलाफ बिगुल बजाया था। अब चार दशक बाद विपक्ष का ऐसा जमावड़ा देखने को मिला है। इससे पहले ज्योति बसु ने कांग्रेस को उखाड़ फेंकने के लिए 7 जून, 1977 को संयुक्त विपक्ष की मुट्ठी तान दी थी। इसके बाद इस ऐतिहासिक मैदान में उतने लोग कभी नहीं आए।

 
राफेल जैसा घोटाला किसी सरकार में नहीं हुआ: शौरी

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी ने कहा कि राफेल जैसा घोटाला इससे पहले किसी सरकार में नहीं हुआ। शौरी ने कहा, ऐसी झूठ बोलने वाली सरकार कभी नहीं आई। इस सरकार ने हर संस्था को बर्बाद करने की जिद पकड़ रखी है। मोदी-शाह से लोगों को विश्वास उठ गया है। साथ ही अब मोदी समझ गए हैं कि सत्ता से उनकी पकड़ हिल गई है। उन्होंने कहा कि गुजरात में विपक्ष एक होकर लड़ता तो बीजेपी सत्ता में नहीं आती। विपक्ष दल एकजुट होकर ही मोदी सरकार को हटा सकते हैं। सत्ता से मोदी को हटाने के लिए विपक्ष को एकजुट होकर अर्जुन बनना पड़ेगा।

कोलकाता: टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी के मंच से 23 दलों ने ठोकी ताल

हम साथ खड़े होंगे, साथ लड़ेंगे और भाजपा के शासन को उखाड़ फेकेंगे।
- जयंत चौधरी, राष्ट्रीय लोक दल

देश के लोकतंत्र को बचाने की जरूरत है। मैं यहां पर ममता दीदी के हाथों को मजबूत करने आया हूं।
- गेगांग अपांग, अरुणाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री

यूनाइटेड इंडिया रैली
23 नेताओं ने मंच से भाषण दिया (ममता बनर्जी समेत)।

12 बजे दोपहर में रैली की शुरुआत हुई

04 वर्तमान मुख्यमंत्री, ममता बनर्जी, चंद्रबाबू नायडू, एचडी कुमारस्वामी और अरविंद केजरीवाल पहुंचे

06 पूर्व मुख्यमंत्री - अखिलेश यादव, फारुख अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला, बाबूलाल मरांडी, हेमंत सोरेन और गेगांग अपांग।

08 पूर्व केंद्रीय मंत्री - मल्लिकार्जन खड़गे, शरद यादव, शरद पवार, अजित सिंह, यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी, शत्रुघ्न सिन्हा और राम जेठमलानी पहुंचे। 

लोकसभा चुनाव 2019: बिहार से लगी पूर्वांचल की सीटों पर जेडीयू की नजर

इन नेताओं की हिस्सेदारी

ममता बनर्जी – तृणमूल कांग्रेस

अखिलश यादव – सपा

सतीश चंद्र मिश्रा – बसपा

अजित सिंह, आरएलडी, जयंत चौधरी- आरएलडी

चंद्रबाबू नायडू – टीडीपी

अरविंद केजरीवाल – आप

शरद पवार- एनसीपी, प्रफुल्ल पटेल – एनसीपी

शरद यादव – लोकतंत्रिक जनता दल 

हेमंत सोरेन – जेएमएम

एचडी कुमार स्वामी – जेडीएस , एचडी देवेगोड़ा – जेडीएस

एमके स्टालिन – द्रमुक

फारुख अब्दुल्ला – एनसी, उमर अब्दुल्ला - एनसी

मल्लिकार्जुन खड़गे – कांग्रेस, अभिषेक मनु सिंघवी- कांग्रेस

बदरुद्दीन अजमल – एआईडीयूएफ

तेजस्वी यादव – आरजेडी, जय प्रकाश नारायण यादव – आरजेडी

लालदुहोमा – जोराम नेशनलिस्ट पार्टी

यशवंत सिन्हा – भाजपा बागी, शत्रुघ्न सिन्हा  - भाजपा बागी

अरुण शौरी – पूर्व केंद्रीय मंत्री

हार्दिक पटेल – पाटीदार नेता, गुजरात

जिग्नेश मेवाणी – गुजरात, स्वतंत्र

गेगांग अपांग- पूर्व सीएम अरुणाचल प्रदेश ( भाजपा छोड़ी है )
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:United India Rally by mamata banerjee tmc Such gathering after 42 years in kolkata