ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशराम मंदिर, नीतीश कुमार की एंट्री के बाद अब आ रहा CAA, इस दिन से होगा लागू; मोदी के मंत्री ने बताया

राम मंदिर, नीतीश कुमार की एंट्री के बाद अब आ रहा CAA, इस दिन से होगा लागू; मोदी के मंत्री ने बताया

केंद्रीय मंत्री शांतनु ठाकुर ने कहा, 'राम मंदिर का अनावरण पहले ही हो चुका है। अब अगले एक हफ्ते में CAA भारत भर में लागू कर दिया जाएगा। आज मैं इस गारंटी के साथ मंच से उतर रहा हूं।'

राम मंदिर, नीतीश कुमार की एंट्री के बाद अब आ रहा CAA, इस दिन से होगा लागू; मोदी के मंत्री ने बताया
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 29 Jan 2024 10:47 AM
ऐप पर पढ़ें

नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) को लेकर केंद्रीय मंत्री शांतनु ठाकुर ने बड़ा दावा किया है। उन्होंने कहा कि अगले एक हफ्ते में सीएए पूरे देश में लागू हो जाएगा और मैं इस बात की गारंटी देता हूं। पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना में सार्वजनिक बैठक को संबोधित करते हुए ठाकुर ने कहा, 'राम मंदिर का अनावरण पहले ही हो चुका है। अब अगले एक हफ्ते में CAA भारत भर में लागू कर दिया जाएगा। आज मैं इस गारंटी के साथ मंच से उतर रहा हूं।' मालूम हो कि शांतनु ठाकुर बंगाल के बनगांव से भारतीय जनता पार्टी के सांसद हैं और बंदरगाह, जहाजरानी व जलमार्ग मंत्रालय के राज्य मंत्री हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्री ने सीएए को लेकर जो कहा है, अगर वैसा हुआ तो अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा और बिहार में नीतीश कुमार के साथ मिलकर सरकार बनाने के बाद 2024 में बीजेपी का यह एक और बड़ा कदम होगा।

शांतनु ठाकुर ने कहा, 'इस राज्य की मुख्यमंत्री कहती हैं कि अगर आपके पास वोटर कार्ड है, अगर आपके पास आधार कार्ड है तो आप नागरिक हैं। आप मतदान कर सकते हैं मगर मैंने यह सुना है कि हजारों लोग इससे अभी तक वंचित हैं।' उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री यह क्यों कह रही हैं कि जो लोग आ चुके हैं, वे नागरिक हैं। अगर कोई नागरिक पासपोर्ट सत्यापन के लिए डीआईबी से संपर्क करता है, तो विभाग उससे 1971 से पहले का दस्तावेज क्यों मांग रहा है? इस सवाल का जवाब पुलिस प्रशासन को देना होगा। हमें पासपोर्ट का सत्यापन वोटर कार्ड, आधार कार्ड, राशन कार्ड देखकर करना चाहिए। मगर, राज्य सरकार राजनीति करने में लगी हुई है।'

CAA को लागू होने से कोई नहीं रोक सकता: अमित शाह 
पिछले साल दिसंबर में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा था कि CAA को लागू होने से कोई नहीं रोक सकता, क्योंकि यह देश का कानून है। उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर लोगों को इस मुद्दे पर गुमराह करने का आरोप भी लगाया था। मालूम हो कि सीएए कानून का मकसद पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान सहित पड़ोसी तीन देशों के छह समुदायों को फास्ट ट्रैक नागरिकता देना है। इस कानून को मंजूरी मिल चुकी है मगर इसे लागू करने के नियमों को अभी तक अधिसूचित नहीं किया गया है।

ममता बनर्जी पर लोगों को गुमराह करने का आरोप
अमित शाह ने कहा, 'हमें अगले विधानसभा चुनाव के बाद पश्चिम बंगाल में भाजपा सरकार बनाने के लिए काम करना है। भाजपा सरकार का मतलब घुसपैठ, गौ तस्करी का अंत और CAA के माध्यम से धार्मिक आधार पर सताए गए लोगों को नागरिकता प्रदान करना होगा।' शाह ने सीएए के मुद्दे पर लोगों को गुमराह करने के लिए बनर्जी पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा, 'कभी-कभी वह लोगों, शरणार्थियों को गुमराह करने की कोशिश करती हैं कि क्या सीएए देश में लागू होगा या नहीं। मैं यह स्पष्ट रूप से कहना चाहता हूं कि सीएए देश का कानून है और कोई भी इसे लागू करने से कोई रोक नहीं सकता है। यह हमारी पार्टी की प्रतिबद्धता है।'

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें