DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गिरिराज सिंह बोले- राम मंदिर का विरोध करने वाले पाकिस्तान जाएं

giriraj singh photo-ht

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि हिंदुओं के धैर्य की परीक्षा नहीं लेनी चाहिए और जिन्होंने अल्पसंख्यकों के खिलाफ असहिष्णुता का हवाला देकर राम मंदिर निर्माण का विरोध किया उन्हें पाकिस्तान जाना चाहिए और देखना चाहिए कि वहां पर कैसा लोकतंत्र है। सिंह ने दावा किया कि राम मंदिर मुद्दा तब ही सुलझ गया होता अगर सरदार वल्लभभाई पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री बने होते। क्योंकि जवाहरलाल नेहरू ने वोट बैंक की राजनीति की खातिर इस मुद्दे को जानबूझकर जिंदा रखा।

भाजपा फिर बनाएगी पूर्ण बहुमत की सरकार : अश्विनी त्यागी

हिंदूवादी राग अलापने के लिए पहचाने जानेवाले भाजपा नेता ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण भाजपा के लिए कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं है, बल्कि सभी हिंदुओं के देश में रहने का एजेंडा है। केंद्र में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार के खिलाफ प्रदर्शन के लिए ‘छद्म धर्मनिरपेक्षों’ पर निशाना साधते हुए सिंह ने कहा कि जो देश में असहिष्णुता के बारे में चिल्ला रहे हैं वे असल में ‘असहिष्णुता का गिरोह’ हैं। उन्होंने कहा कि ये देश को गंदा करने की कोशिश कर रहे हैं।

सिंह ने कहा, ‘चूंकि हम सहिष्णु हैं तो अन्य समुदाय इसका फायदा ले सकते हैं। कैसे भारत जैसे देश में, जहां हिंदू बहुलता में है, उन्हें अपने देवताओं की प्रार्थना करने से रोका जा सकता है। अन्य समुदायों का हमें, हमारे देवताओं की प्रार्थना करने से रोकने का क्या अधिकार है? किसी भी चीज की अति खराब है लेकिन इससे हिंदुओं का धैर्य टूट सकता है। किसी को भी हिंदुओं के धैर्य की परीक्षा नहीं लेनी चाहिए।’ विपक्षी एकता के बारे में सिंह ने कहा कि यह एकता नरेंद्र मोदी के भय से निकली है और उन्हें पूरा विश्वास है कि भाजपा बड़े बहुमत के साथ सत्ता में लौटेगी।

यूरिया की कीमत नियंत्रित करे राज्य सरकार : गिरिराज सिंह

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:union minister Giriraj Singh said those who opposing ram mandir should go pakistan